A- A A+
Last Updated : Aug 4 2020 2:05PM     Screen Reader Access
News Highlights
Govt formulates draft Defence Production and Export Promotion Policy 2020            12,30,509 people recovered from coronavirus in country so far            Preparations in full swing in Ayodhya for Bhoomi Poojan for construction of Ram Temple            Flood situation in Bihar further deteriorates; Relief, rescue operations intensifies            Indian men's, women's hockey teams for Tokyo Olympics to join National camp in Bengaluru today           

Text Bulletins Details


समाचार संध्या

2000 HRS
06.07.2020

मुख्य समाचार :-            

  • राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अ‍जीत डोभाल और चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने वास्‍तविकनियंत्रण रेखा पर गतिरोध दूर करने पर बातचीत की।

  • देश में कोविड-19 की जांचएक करोड तक पहुंची। स्‍वस्‍थ होने की दर61 प्रतिशत के आसपास।

  • विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन ने कहा है कि वायु के माध्‍यम से कोविड-19 के प्रसार के स्‍पष्‍ट प्रमाण नहीं।

  • सरकार ने कहा-खरीफ फसल के मौसम के दौरान देशमें उर्वरकों की कोई कमी नहीं।

  • भारत और विश्‍व बैंक ने सूक्ष्‍म, लघु और मध्‍यमउद्योग आपात कार्रवाई योजना के लिए 75 करोड़ डॉलर के समझौते पर हस्‍ताक्षर किए।

-----

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल और चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने कल फोन पर सीमा मुद्दों पर चर्चाकी। भारत और चीन के दोनों विशेष प्रतिनिधियों ने सीमा क्षेत्रों के पश्चिमी सेक्टर में हाल के घटनाक्रम पर गहन और स्पष्ट विचारों का आदान प्रदान किया।

 

दोनों विशेष प्रतिनिधि इस बात पर सहमत हुए किदोनों पक्षों को नेताओं की आम सहमति से मार्गदर्शन लेना चाहिए। इस सहमति के अनुसारआपसी सम्बंधों के विकास के लिए भारत-चीन सीमा क्षेत्रों में शांतिऔर सौहार्द बनाए रखना आवश्यक है। उन्होंनेकहा कि दोनों देशों को आपसी मतभेदों को विवाद नहीं बनने देना चाहिए। इसलिए वे सहमतहुए कि भारत-चीन सीमा क्षेत्रों में पूरी तरह शांति और सौहार्दबहाल करने के लिए वास्तविक नियंत्रण रेखा से सेनाओं को जल्द से जल्द पूरी तरह हटाना आवश्यक है।

 

इस सम्बंध में दोनों प्रतिनिधियों ने मानाकि भारत और चीन को वास्तविक नियंत्रण रेखा से जल्द से जल्द पीछे हटने की प्रक्रिया पूरी करनी चाहिए।दोनों देशों को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि सीमा क्षेत्रों मेंतनाव कम करने की चरणबद्ध और सिलसिले वार प्रक्रिया सुनिश्चितकरनी चाहिए। उन्होंने प्रतिबद्धता व्यक्त की कि दोनों देशों को वास्तविक नियंत्रण रेखा का सख्ती से पालन और सम्मान करना चाहिए। दोनों देशों को यथास्िति बदलने के लिए एकतरफा कार्रवाई नहीं करनी चाहिएऔर यह सुनिश्चित करने के लिए काम करना चाहिए कि भविष्य में ऐसा कुछ न हो जिससे सीमा क्षेत्रों में शांतिऔर सौहार्द बिगड़े।

 

दोनों विशेष प्रतिनिधि सहमत हुए कि दोनों देशोंके राजनयिक और सैन्य अधिकारियों को विचार-विमर्श जारी रखना चाहिए। समयबद्धढंग से अपेक्षित परिणाम हासिल करने के लिए भारत-चीन सीमा मामलोंके बारे में परामर्श और समन्वय के लिए कार्यकारी व्यवस्था की रूपरेखा के अन्तर्गतविचार-विमर्श जारी रखना चाहिए। द्विपक्षीय समझौतों और संधियों के अनुरूप भारत-चीन सीमा क्षेत्रों में पूरी तरहसे शांति और सौहार्द बहाल करने के लिए दोनों विशेष प्रतिनिधि बातचीत जारी रखने पर भीसहमत हुए।

-----

केंद्र सरकार ने आज कहा कि देश में कोरोना वायरसके संक्रमण से उबरने वाले लोगों की संख्‍या चार लाख चौबीस हजार चार सौ तैंतीसहो गई है। पिछले चौबीस घंटों के दौरान पंद्रह हजार तीन सौ पचास लोग स्‍वस्‍थ हुए हैं।स्‍वस्‍थ होने की दर साठ दशमलव आठ-छह प्रतिशत हो गई है।


स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण मंत्रालय नेबताया है कि पिछले चौबीस घंटों के दौरान देश में कोविड-19 से चौबीस हजार दो सौ अड़तालीसनये लोग संक्रमित हुए हैं। इसके साथ ही कुल संक्रमित लोगों की संख्‍या छह लाख सत्‍तानवेहजार चार सौ तेरह हो गई है। पिछले चौबीस घंटों में देशभर में वायरस से चार सौ पच्‍चीसलोगों की मृत्‍यु हुई है। संक्रमण से मरने वाले लोगों की संख्‍या उन्‍नीस हजार छह सौतिरानवे हो गई है। फिलहाल देश में दो लाख तिरेपन हजार दो सौ सत्‍तासी लोगों का इलाजहो रहा है।

-----

देश में कोविड-19 महामारीके बाद से अब तक एक करोड़ नमूनों की जांच की महत्वपूर्ण उपलब्धि प्राप्त की गई। पहले प्रतिदिन एक सौ से भी कम नमूनोंकी जांच की जा रही थी। कुछ ही महीनों में इसमें कई गुणा वृद्धि हुई। यह सब अनुसंधानसंस्थान, मेडिकल कॉलेज, जांच प्रयोगशालाओं, मंत्रालयों, एयर लाइंस और डाक सेवाओं सहित विभिन्न पक्षों की समर्पितटीम के प्रयासों से ही संभव हुआ। पिछले 24 घंटे के दौरान देशमें तीन लाख 46 हजार से अधिक कोविड नमूनों की जांच की गई। 

 

कोरोना  वाय़रस महामारी के कारण देश एक अभूतपूर्व संकट सेगुजर रहा है। इस स्थिति से प्रभावी ढंग से निपटने के लिए सरकार ने टेस्ट ट्रेक ट्रीटकी रणनीति अपनाई है ताकि महामारी का जल्द से जल्द पता लगाकर रोकथाम के लिए उचित कदमउठाये जा सके। सरकार ने कोविड-19 परीक्षण क्षेत्र में आत्मनिर्भरता हासिल करने के  लिए आवश्यक उपकरणों और सामग्रियों को विकसित करनेके लिए स्वदेशी निर्माणकर्ताओं को बढ़ावा दिया। इस साल जनवरी में भारत ने पुणे के नेशनलइंस्‍टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी में कोरोना वायरस की जांच के लिए केवल एक परीक्षण प्रयोगशालाथी। आज देशभर में 1100 से अधिक सरकारी और निजी प्रयोगशालाएं कोरोना वायरस के नमूनोंका परीक्षण कर रही हैं। आईसीएमआर कोविड-19 परीक्षण  के लिए नई प्रयोगशालाओं, आरटीपीसीआरकिट, ट्रू नेट टेस्ट, सी बी नेट टेस्ट कोमंजूरी देकर अपनी सुविधाओं में निरंतर वृद्धि कर रहा है।  आईसीएमआर ने आरटीपीसीआर परीक्षण के साथ-साथ कंटेनमेंटजोन में कोविड-19 की जांच के लिए रेपिड एंटीजन टेस्ट किट के प्रयोग की भी सिफारिश कीहै। इसके अलावा भारत उच्च गुणवत्ता, कम लागत वाले परीक्षण स्वेबका भी उत्पादन कर रहा है, जिसके परिणाम स्वरूप रिकॉर्ड समय मेंलाखों स्वेब का उत्पादन हुआ है वो भी आयातित स्वेब के मुकाबले में बेहद किफायती दामोंपर। हालांकि इन कदमों के बावजूद भारत जैसे बड़े देश में परीक्षण तक पहुंच एक बहुत बड़ीचुनौती बनी हुई है। इससे निपटने के लिए आईसीएमआर ने देश के विभिन्न हिस्सों में परीक्षणकी पहुंच और उपलब्धता को बेहतर बनाने के लिए अतिरिक्त परीक्षण विधियों को शामिल करनेका सुझाव दिया है। भूपेंद्र सिंह, आकाशवाणी समाचार, दिल्ली।

-----

दिल्‍ली के उपराज्‍यपाल अनिल बैजल ने स्‍वास्‍थ्‍यविभाग को कोविड से संबंधित मृत्‍यु दर घटाने के लिए आवश्‍यक कदम उठाने को कहा है। श्रीबैजल ने आज दिल्‍ली में कोविड-19 प्रबंधन के लिए चिकित्‍सा बुनियादी ढांचा, मानव संसाधनऔर सामुदायिक संपर्क की स्थिति की समीक्षा की। उन्‍होंने रोगियों की जान बचाने के लिएगोल्‍डन ऑवर की उपयोगिता पर बल दिया। श्री बैजल ने जोर देकर कहा कि महत्‍वपूर्णअवसर पर रोगियो को एम्‍बूलेंस, आई०सी०यू० और ऑक्‍सीजन-युक्‍तबिस्‍तर उपलब्‍ध कराना चाहिए।

 

उन्‍होंने चिकित्‍साकर्मियों का मनोबल बढानेतथा रोगियों और उनके संबंधियों के भरोसे को प्रोत्‍साहन देने पर भी बल दिया। वीडियोकांफ्रेंस के माध्‍यम हुई इस बैठक में दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल, उप-मुख्‍यमंत्रीमनीष सिसोदिया तथा अन्‍य वरिष्‍ठ अधिकारी उपस्थित थे।

-----

अरूणाचल प्रदेश की राजधानीईटानगर में आज शाम पांच बजे से एक सप्‍ताह के लिए पूर्ण लॉकडाउन लागू हो गया। कोरोनाके बढ़ते मामलों को देखते हुए यह निर्णय लिया गया है।

-----

केरल की राजधानी तिरूअनंतपुरम में भी एक सप्ताह के लिएलॉकडाउन फिर शुरू किया गया है। पुलिस की कड़ी निगरानी में यहां हाई अर्ल्ट है। तिरूअनंतरपुरमनिगम के सभी 100 वॉर्ड बंद है। प्रवेश और निकास मार्ग को छोड़कर शहर की ओर जाने वालेसभी रास्ते बंद कर दिये गये हैं। केवल आवश्यक सेवाओं को अनुमति दी गई है। सार्वजनिकपरिवहन सेवाएं और सभी सरकारी कार्यालय भी बंद हैं। 

 

राज्य में आज एक सौ 93 लोग संक्रमित हुए जबकि एक सौ 67 रोगी ठीक हो गए। राज्य में पिछले 18 दिन से रोजाना एक सौ से अधिक लोग कोरोनासे संक्रमित हो रहे हैं। आज एक सौ 93 संक्रमित लोगों में से92 ऐसे रोगी हैं जो विदेश से लौटे हैं जबकि 65 अन्य राज्यों से आए हैं। राज्य में अब तक 27 लोगों की मृत्युहुई है। अब दो हजार दो सौ 52 मरीजों का इलाज चल रहा है।

-----

आंध्र प्रदेश में एक हजार 263 लोगों मेंकोविड-19 के संक्रमण की पुष्टि हुई है। पिछले चौबीस घंटों केदौरान स्वस्थ हुए 424 लोगों को विभिन्न अस्पतालों सेछुट्टी दे दी गई। राज्य में अब तक कोरोना के कुल 17 हजार 365 मामले दर्ज हुए हैं जिनमें से 7 हजार 252 लोग ठीक हुए। करीब 9 हजार874 मरीजों का इलाज चल रहा है। राज्य में अब तककोविड-19 के दस लाख से अधिक परीक्षण किए गए। मुख्यमंत्री कार्यालय के अनुसार राज्य में कोविड-19संक्रमण के कारण मृत्युदर एक दशमलव दो चार प्रतिशतहै।

------

कर्नाटक में आज कोविड-19 संक्रमण के एक हजार843 नये मामले सामने आये। नये मामलों में से 981 मामले बेंगलुरू के हैं। राज्‍य मेंआज संक्रमण से 30 लोगों की मौत हुई। राज्‍य में पिछले 24 घंटों के दौरान 15 हजार880 नमूनों की जांच की गई है। इसके साथ ही राज्‍य में कुल कोविड जांच सात लाख 22 हजार305 नमूनों तक पहुंच गई है।

-----

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्रीउद्धव ठाकरे ने ऐसे समय कई उद्योगों से कामगारों को हटाने के कदम पर चिंता प्रकट कीहै जब सरकार राज्य में कारोबारी गतिविधियां फिर शुरू करने कीअनुमति दे रही है। श्री ठाकरे ने धरती पुत्रों यानी राज्य केनिवासियों को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिए महा जॉब्स पोर्टल के शुभारंभ के अवसर पर यह बात कही। राज्य सरकारका कौशल विकास मंत्रालय इस सप्ताह ऑनलाइन रोजगार मेला भी आयोजितकर रहा है। यह मेला आज से शुरू हुआ। ब्योरा हमारी संवाददातासे-

 

आज महाजॉब्स् पोर्टल का शुभारम्‍भकरते हुए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि तालाबंदी के कारण कई प्रवासीमजदूर अपने मूल राज्यों में चले गए थे, पर अब जब राज्यमें व्यापार गतिविधियां फिर से शुरू हो गई है, तो धीरे-धीरे येमजदूर राज्य में वापस लौटने लगे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसी स्थिति में कई उद्योगोंद्वारा इन मजदूरों के वेतन में कटौती करना या उन्हें बर्खास्त करना सही नहीं है। राज्यके उद्योग मंत्री सुभाष देसाई ने कहा कि 17 ऐसे क्षेत्र हैं, जिसके लिए नौकरी तलाशने वाले इस पोर्टल के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं। इसमेंइंजीनियरिंग, लॉजिस्टिक, टेक्सटाइल और फार्मास्युटिकलशामिल हैं। उन्होंने कहा कि कुशल, अर्ध कुशल और अकुशल उम्मीदवारनौकरियों के लिए पोर्टल पर उनके विवरण अपलोड करके आवेदन कर सकते हैं, जिसका उपयोग नियोक्ताओं/उद्योगों द्वारा भी किया जा सकता है। दूसरी ओर,मुंबई महानगर क्षेत्र विकास प्राधिकरण जो कि बड़ी मूल संरचना परियोजनाओंको लागू कर रहा है, उसे मजदूरों की अनुपस्थिति के कारण परियोजनाओंको पूरा करने में 5-6 महीने से अधिक देरी की चुनौती का सामना करना पड़ रहा है,इसलिए राज्य के कौशल विकास मंत्रालय ने 'पंडितदीनदयाल उपाध्याय ऑनलाइन जॉब फेयर' का आयोजन किया है,जो आज से 12 जुलाई तक चलेगा। स्‍वीटी जैन, आकाशवाणीसमाचार, मुम्‍बई।


इस बीच, महाराष्‍ट्र में कोरोना वायरस के कारणलगे लॉकडाउन में छूट देते हुए राज्‍य सरकार ने आज होटलों और अन्‍य संबंधित संस्‍थानोंको 33 प्रतिशत क्षमता के साथ परिचालन की अनुमति देने का फैसला किया। कंटेनमेंटजोन से बाहर होटल, अतिथिगृह और विश्राम गृह जैसे संस्‍थान आठजुलाई से खुल सकेंगे। शॉपिंग मॉल में स्थित होटलों को खोलने की अनुमति नहीं होगी।  सरकार ने इस फैसले की जानकारी एक अधिसूचना में दीहै। इन संस्‍थानों को परिचालन की अनुमति सुरक्षित परस्‍पर दूरी और अन्‍य मानकों कापालन करने की शर्तों के साथ दी गई है।

-----

असम में कोविड-19 महामारीसे निपटने के उपायों के साथ ही आर्थिक गतिविधियों में तेजी लाने के लिए कदम उठाए जारहे हैं। जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग मंत्री रिहान दईमारी ने कहा कि 50 हजार युवाओं को कौशल विकास प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए कदम उठाए जा रहे हैं।एक रिपोर्ट-

 

असम के जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकीविभाग के मंत्री रिहान दईमारी ने बताया कि जल जीवन मिशन के तहत कौशल विकास प्रशिक्षणदेने के लिए पूरे प्रदेश में तैयारी की जा रही है। उन्होंने कहा कि जो लोग हाल ही मेंबाहर से असम से लौटे हैं, वो इस पहल से लाभांवित होंगे। श्रीदईमारी ने कहा कि कोविड -19 के प्रसार को रोकने के लिए गांवों में भी दवाई छिड़के जारहे है। दईमारी ने यह भी कहा कि बाढ़ राहत शिविरों में रह रहे लोगों को जन स्वास्थ्यअभियांत्रिकी विभाग द्वारा पीने का पानी उपलब्ध कराया जा रहा है। प्रदेश में बाढ़ कीस्थिति में सुधार हुआ है, लेकिन अब भी 15 जिलों में लगभग 4 लाखलोग बाढ़ की चपेट में हैं। मानस प्रतिम शर्मा, आकाशवाणी समाचार,गुवाहाटी।

-----

ये समाचार हमारी वेबसाइट news on air.com/hindiऔर हमारे मोबाइल ऐप News On Air पर भी उपलब्ध हैं।

-----

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा है कि वायु के माध्यम से नोवेल कोरोना वायरस के फैलने के बारे में कोई स्पष्ट प्रमाण नहीं हैं। हवा में मौजूद कणों के माध्यम से कोविड-19 के प्रसार के बारे में 32 देशों के दो सौ 39 वैज्ञानिकों के शोध के बाद विश्व स्वास्थ्य संगठन में संक्रमण से बचाव और नियंत्रण सम्बंधी तकनीकीटीम की प्रमुख डॉक्टर बेनेदेत्ता अलेग्रांज़ीका ये बयान आया है।


शोधार्थियों ने कोविड संक्रमण के फैलने के सम्बंध में विश्व स्वास्थ्य संगठन की सिफारिशों पर पुनर्विचार की अपील की है। लेकिन विश्व स्वास्थ्य संगठन को हवा के माध्यम से इस वायरस के फैलने का कोईठोस प्रमाण नहीं मिला।

 

वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान परिषद के महानिदेशकशेखर मांडे ने लोगों से पूरी सुरक्षा बरतने का आग्रह किया है। उन्होंने कहा किहवा के जरिए फैलने वाला संक्रमण भी वायु में ज्यादा देर तक नहींरह सकता। श्री मांडे ने आकाशवाणी से विशेष बातचीत में कहा कि मास्क लगाने और सुरक्षित दूरी बनाए रखने से ही कोविड संक्रमण के सम्पर्क में आने की आशंका महत्वपूर्ण रूप से कम की जा सकतीहै।

 

हम लोग जो प्रीक्‍योशन ले रहेहैं। उसे नियमित रूप से उसका पालन करे ये काफी होगा। जैसे कि सोशल डिस्‍टेंसिंग मेनटेनकरना है,मास्‍क पहनना है, जहां पर वेंटिलेशन अच्‍छा न हो,वहां पर संभावना बढ़ जाती है, इसलिए बंद जगहोंपर भी ये आवश्‍यक है कि किसी ने अगर वेंटिलेट कर रखे है और फैन वगैरह लगे है तो संभावनाबहुत कम हो जाती है कोविड होने की।

-----

मध्‍य प्रदेश में चल रहे किल कोरोना अभियान केतहत घर-घर जाकर हो रहे सर्वेक्षण में चिन्हित हो रहे रोगियों के उपचार की व्यवस्थायेंभी सुनिश्चित की जा रही है। शहरी क्षेत्र में एक हजार सात सौ 76 और ग्रामीण क्षेत्र में आठ हजार नौ सौ 75 दल सर्वेक्षणके काम में लगे हुए हैं। सर्वेक्षण अभियान में कोरोना लक्षण वाले मरीजों के साथ अन्यमौसमी बीमारियों के लक्षणों वाले रोगी भी चिन्हित हो रहे है। एकरिपोर्ट-

 

किल कोरोना अभियान में अब तककरीब 11 हजार से अधिक सैंपल लिए जा चुके है और प्रदेश में 2 करोड़ से अधिक लोगों कास्वास्थ्य सर्वे इस अभियान के अंतर्गत पूर्ण हो चुका है। किल कोरोना अभियान' में डोर-टू-डोरसर्वे के लिए तैनात सभी टीमें नॉन कान्टेक्ट थर्मामीटर, पल्सऑक्सीमीटर और जरूरी प्रोटेक्टिव गियर से लैस हैं। 'किल कोरोनाअभियान' में सर्वे द्वारा कोरोना के संदिग्ध मरीजों के साथ-साथमलेरिया, डेंगू, चिकनगुनिया आदि के मरीजोंकी भी पहचान कर उन्हें 'सार्थक एप' मेंदर्ज किया जा रहा है। 'किल कोरोना अभियान' 15 जुलाई तक चलेगा।  मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने किल कोरोना अभियान में सर्वे के दौरान चिन्हित हो रहे संभावित कोरोनारोगियों की जांच के साथ-साथ उचित उपचार की व्यवस्था करने के निर्देश भी दिये है। उन्होंनेकहा है कि सर्वे में अन्य रोगों की पहचान कर रोगियों का इलाज सुनिश्चित किया जाये।संजीव शर्मा, आकाशवाणी समाचार, भोपाल।

-----

तमिलनाडु के स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर सी विजय भास्कर ने कहा है कि सिद्ध, आयुर्वेद, प्राकृतिक चिकित्सा और योग जैसी भारतीय चिकित्सा पद्धतियों को उचित महत्व दिया जा रहा है। उन्होंने आज चेन्नई में संवाददाताओं को बताया कि शहर केस्टैनले मेडिकल कॉलेज अस्पताल में आयुर्वेदके लिए अलग प्रकोष्ठ बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि चेन्नई के ग्विन्डी में नव स्थापित अस्पताल मेंसिद्ध चिकित्सा पद्धति के डॉक्टरों केलिए अलग ब्लॉक होगा।

 

इस बीच, राज्य में कोविड-19रोगियों की संख्या एक लाख15 हजार हो गई है। आज तीन हजार आठ सौ 27 लोगोंमें संक्रमण की पुष्टि हुई।

-----

आकाशवाणी का समाचार सेवा प्रभाग अपने फोन इनकार्यक्रम में कोविड-19 पर विशेष परिचर्चा प्रसारित करता है। सफदरजंग अस्‍पताल के मेडिसिन विभाग केप्रोफेसर डॉक्‍टर नीरज गुप्‍ता इस चर्चा में भाग लेंगे। यह कार्यक्रम रात नौ बजकर30 मिनट से एफएम गोल्‍ड और अतिरिक्‍त मीटरों पर सुना जा सकता है। श्रोता स्‍टूडियोमें हमारे टोल‍-फ्री नम्‍बर 1 8 0 0 1 1 5 7 6 7 पर फोन करकेविशेषज्ञ से सवाल पूछ सकते हैं। श्रोता 0 1 1 2 3 3 1 4 4 4 4 पर भी सवाल पूछ सकते हैं।

-----

आकाशवाणी का समाचार सेवा प्रभाग विशेषज्ञों कीराय श्रृंखला में कोविड-19महामारी के बारे में चिकित्सा विशेषज्ञों की सलाहप्रसारित करता है। नई दिल्ली के सीताराम भरतिया विज्ञान और अनुसंधानसंस्थान में वरिष्ठ परामर्शदाता डॉक्टर अमरचन्द बजाज ने सुरक्षित दूरी अपनाने पर जोर दिया।

 

जब तक हमारे पास उनकी ट्रीटमेंटवैक्सीन या मेडिसिन के रूप में न निकले, तब तक हमें प्रीक्योशनरी मेजर है, वो फोलो करने है। जहां जरूरत न हो उससमय घर से बाहर न निकलें। कोशिश करें, कम से कम बाहर निकलना हैऔर जब निकलना भी पड़े घर से बाहर तो कोशिश करे, तो जहां आप दोलोग खड़े है, करीब दो मीटर दूर खड़े रहे, नहीं तो कम से कम एक मीटर दूर खड़े रहे।


दिल्ली के लोकनायक जयप्रकाश नारायण अस्पताल के डॉक्टर नरेश गुप्ता नेकहा कि कोविड-19 के बहुत कम मरीजों को अस्पताल में भर्ती कराने की जरूरत होती है।

 

80 प्रतिशत में तो ऐसे भी तकलीफनहीं करते हैं या इतनी हल्की करते हैं कि लोग घर पर ही ठीक हो जाते हैं। 10-15 पन्‍द्रहपरसेंट में उनकों अस्पताल जाकर कुछ दवाई दी जाती है और वो सही हो जाते हैं। 5 परसेंटया उससे कम वाले है जो कि दाखिल होना पड़ता है।

-----

एयर इंडिया, वंदे भारत मिशन के अंतर्गत अमरीकाऔर भारत के बीच 11 जुलाई से 19 जुलाई के दौरान 36 उडानें संचालित करेगी। एक बयान मेंएयर इंडिया ने कहा है कि टिकटों की बुकिंग आज से केवल एयर इंडिया की वेबसाइट पर कीजा सकती है।

-----

उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथने कहा है कि विभिन्‍न विभागों के बेहतर समन्‍वय और निगरानी बढाने से जापानी एन्‍सेफालाईटिसऔर एक्‍युट एन्‍से फालाईटिस सिंड्रोम - जापानी बुखार से होने वाली मृत्‍यु कीदर में कमी लाई जा सकती है। श्री आदित्‍यनाथ ने गोरखपुर के बी०आर०डी० मेडिकल कालेजमें संचारी रोग,जापानी बुखार और कोविड-19 से निपटने की तैयारियों की समीक्षा बैठक मेंआज कहा कि लोगों को स्‍वच्‍छता के संबंध में जागरूक करने के लिए अभियान चलाया जानाचाहिए। उन्‍होंने जोर देकर कहा कि स्‍वच्‍छ पेयजल उपलब्‍ध कराने वाली योजनाओं का क्रियान्‍वयनसुनिश्चित होना चाहिए।

 

मुख्‍यमंत्री ने कहा कि स्‍थानीय प्रशासनिक अधिकारियोंको उन गांवों का दौरा करना चाहिए जहां जापानी बुखार होने की सूचनायें मिली हैं। इनगांवों में स्‍वच्‍छता अभियान चलाया जाना चाहिए और लोगों को उबला हुआ पानी पीने केलिए प्रोत्‍साहित किया जाना चाहिए। उन्‍होंने गोरखपुर और बस्‍ती मंडल में कोविड-19से निपटने की तैयारियों की समीक्षा भी की। उन्‍होंने कहा कि सभी विभागों में कोविडसहायता डेस्‍क की स्‍थापना की जानी चाहिए और आगन्‍तुकों की जांच की जानी चाहिए।

-----

राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण- एनडीएमए ने  आकाशीय बिजली से बचने के बारे मेंजागरूकता फैलाने की आवश्‍यकता पर बल दिया है ताकि बिजली से लोगोंकी जान जाने की अप्रिय घटनाओं को रोका जा सके। देश के कई भागों में बिजली गिरने सेलोगों की जान जाने की हाल की घटनाओं के मद्देनजर यह कदम उठाया गया है। आकाशवाणी सेविशेष बातचीत में एनडीएमए के सदस्य कृष्ण वत्स ने बिजली गिरने के दौरान किए जाने वाले सुरक्षाउपायों की जानकारी दी।

 

बहुत लोग वृक्ष के नीचे खड़ेहो जाते है और उससे खतरा बढ़ जाता है जब वृक्ष के आसपास वज्रपात होने की संभावना औरज्‍यादा हो जाती है। बस लेट जाना जमीन पर और नहीं तो दूसरी कहीं अलग-बगल में किसी इमारतमें संरक्षण लेना ये मुख्‍य उपाय हैं। खुले मैदान में थोड़ा उससे बचना चाहिए, कोई वैसी एक्‍टीविटीहो रही है आकाश में दिख रहा है कि वज्रपात होने की संभावना है। 

-----

सरकार ने कहा है कि खरीफ फसल के मौसम के दौरानदेश में उर्वरकों की कोई कमी नहीं है। रसायन और उर्वरक मंत्री डी वी सदानंद गौडा नेकहा कि राज्‍य सरकारों के साथ सलाह-मश्विरा करके उर्वरक का पर्याप्‍त भंडार तैयार कियागया है। मध्‍यप्रदेश के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज नई दिल्‍ली में श्रीगौडा से मुलाकात की। श्री गौडा ने श्री चौहान को मध्‍यप्रदेश में मांग के अनुसार पर्याप्‍तउर्वरक उपलब्‍ध कराने का आश्‍वासन दिया। श्री चौहान ने कहा कि फिलहाल राज्‍य में यूरियाकी कोई कमी नहीं है लेकिन मॉनसून की ज्‍यादा बरसात होने के कारण बुवाई का रकबा 47 प्रतिशतबढ गया है। इससे यूरिया की खपत में भी वृद्धि हुई है।

-----

सरकार और विश्‍व बैंक ने आज सूक्ष्‍म, लघु और मध्‍यमउद्योग आपात कार्रवाई योजना के लिए 75 करोड़ डॉलर के समझौते पर हस्‍ताक्षर किए। इसकाउद्देश्‍य कोविड-19 संकट से प्रभावित सूक्ष्‍म, लघुऔर मध्‍यम उद्योगों-एमएसएमई के हाथ में धन का प्रवाह बढ़ानाहै। विश्‍व बैंक के इस कार्यक्रम के अंतर्गत इस श्रेणी के लगभग 15 लाख उद्योगों कोत्‍वरित रूप से धन और ऋण उपलब्‍ध कराया जाएगा ताकि वे मौजूदा संकट के बावजूद अपना कार्यकरते रहें और उनके रोजगार सुरक्षित रहें। वित्‍त मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि आनेवाले समय में एमएसएमई क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए व्‍यापक सुधारों की दिशा में उठाएगये शुरूआती कदमों में ये एक महत्‍वपूर्ण कदम है।

-----

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय के अन्तर्गत भरतीयराष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने देश में राजमार्गों की स्थितिका आकलन और रैंकिंग करने का निर्णय किया है। इस पहल का उद्देश्य यात्रियों को उच्च स्तर कीसेवा उपलब्ध कराने और आवश्यकता होने परराजमार्गों की गुणवत्ता में सुधार के लिए सही कदम उठाना है।

-----

केन्‍द्र सरकार ने मीडिया की इस खबर का खंडनकिया है जिनमें कहा गया है कि सरकार केन्द्रीय प्रत्यक्षकर बोर्ड तथा केन्द्रीय अप्रत्यक्ष करऔर सीमा शुल्: बोर्ड के विलय के प्रस्ताव पर विचार कर रही है। वित्त मंत्रालय ने इस खबर कोगलत बताया है। सरकार ने स्पष्ट किया हैकि दोनों बोर्ड के विलय का कोई प्रस्ताव नहीं है।

-----

गृह मंत्रालय ने विश्‍वविद्यालयों और शिक्षणसंस्‍थानों की परीक्षाएं आयोजित करने की अनुमति दे दी है। उच्‍च शिक्षा सचिव को लिखेएक पत्र में कहा गया है कि अंतिम सत्र की परीक्षाएं, विश्‍वविद्यालय अनुदान आयोगके दिशा-निर्देशों के अनुसार संचालित की जानी चाहिए। ये परीक्षाएं केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍यऔर परिवार कल्‍याण मंत्रालय द्वारा अनुमोदित मानक संचालन प्रक्रिया और विश्‍वविद्यालयोंके शैक्षिक वर्ष के अनुरूप होंगी।

      -----

राष्‍ट्रीय अन्‍वेषण अभिकरण-एन०आई०ए० नेजम्‍मू कश्‍मीर पुलिस के पूर्व उपाधीक्षक देवेन्‍दर सिंह और उसके पांच सहयोगियों केखिलाफ गैर-कानूनी गतिविधियां निवारण अधिनियम के तहत जम्‍मू एन०आई०ए० अदालत मेंआरोप-पत्र दाखिल किया है। हमारे जम्‍मू संवाददाता ने खबर दी है कि देवेन्‍दर सिंह फिलहालकठुआ की हीरानगर जेल में बंद है। उसे आतंकवादी संगठन हिज्‍बुल मुजाहिद्दीन के आतंकीनावेद मुश्‍ताक उर्फ नावेद बाबू और रफी अहमद राठेर के साथ कुलगाम जिले के वान्‍पोहइलाके से गिरफ्तार किया गया था। उसके तीन अन्‍य सहयोगी-- इरफान शफी मीर, तनवीर अहमदवानी और सईद इरफान अहमद हैं। आरोप पत्र में कहा गया है कि आरोपी पाकिस्‍तान के आतंकवादीसंगठन हिज्‍बुल मुजाहिद्दीन और पाकिस्‍तानी सरकारी एजेंसियों के साथ भारत के खिलाफहिंसक कार्रवाई करने और युद्ध छेड़ने की साजिश में शामिल हैं।

-----

राष्ट्रीय कैडेट कोर - एनसीसी मुख्यालय गुजरात ने कल से अहमदाबाद में एक भारतश्रेष्ठ भारत शिविर की शुरूआत की। हमारे संवाददाता ने खबर दीहै कि वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए एक सप्ताह तक चलने वाला यहशिविर 11 जुलाई तक जारी रहेगा।

 

गुजरात, पश्चिम बंगाल,सिक्किम और केंद्र शासित प्रदेश दादरा नगर हवेली और दमन और दीव के छात्रअपने गृह राज्य से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से यह शिविर में शामिल हो रहे हे.गुजरात से एन.सी.सी. सीनियर विंग की 25 गर्ल्स केडेट और 25 बॉयज केडेट भी इसमें हिस्साले रहे है।  कैम्प कमांडेन्ट कर्नल आवेश पालसिंह ने इसके उद्देश्य के बारे में और जानकारी दी।

 

देश मे कोरोना वायरस महामारीके बीच हो रही इस शिविर में निश्चित रूप से युवा छात्रों को अपने अनुभव साझा करने काअवसर मिलेगा। योगेश पंड्या, आकाशवाणी समाचार, अहमदाबाद।

-----

और, अब कल के मौसमके पूर्वानुमान पर एक नजर –

 

दिल्लीमें आमतौर पर बादल छाए रहेंगे और हल्‍की बारिश होने का अनुमान है। न्यूनतम तापमान 27 डिग्री और अधिकतम 33 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहेगा।मुम्‍बई में आमतौर पर बादल छाए रहेंगे, बारिश भी हो सकती है।न्‍यूनतम तापमान 25 तथा अधिकतम तापमान 29 डिग्री सेल्सियस के बीच रहेगा। चेन्‍नई की बात करें तो तापमान रहेगा 27और 33 डिग्री सेल्सियस के बीच और आमतौर पर बादलछाए रहेंगे। कहीं-कहीं हल्‍की बारिश हो सकती है। कोलकाता में आमतौर पर बादल छाए रहनेके साथ ही एक-दो बार वर्षा होने का अनुमान है। तापमान 27तथा 32 डिग्री सेल्सियस के बीच रहेगा। पूर्वोत्‍तरमें, गुवाहाटी में आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे और एक-दो बार गरज के साथ तेज  बौछार पड़नेका अनुमान है। जम्‍मू में न्‍यूनतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियससे 36 डिग्री सेल्सियस के बीच रह सकता है। आंशिक रूप से बादलछाए रहेंगे और आंधी के साथ हल्‍की बारिश हो सकती है। श्रीनगर में आसमान साफ रहेगा।तापमान 17 डिग्री सेल्सियस से 34 डिग्रीसेल्सियस के बीच रहेगा। गिलगित में न्‍यूनतम तापमान 16 डिग्रीसेल्सियस तथा अधिकतम 33 डिग्री सेल्सियस रहेगा। आसमान आमतौर परसाफ रहेगा। दोपहर या शाम आंशिक रूप से बादल छाए रह सकते है। मुजफ्फराबाद में आसमानआमतौर पर साफ रहेगा, लेकिन दोपहर या शाम को आंशिक रूप से बादलछा सकते हैं। न्‍यूनतम तापमान 22 डिग्री और अधिकतम तापमान 39डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान है। चन्द्रिका जोशी, समाचार कक्ष।

-----

राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने स्कूल बंद होने के मद्देनज़र बिहार के भागलपुर जिले में दोपहर के भोजन की आपूर्तिनहीं होने के कारण गरीब बच्चों की दुर्दशा की खबर पर केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय और बिहार सरकार को नोटिस जारी किए हैं।

-----

Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 4 (Aug) Midday News 3 (Aug) Evening News 3 (Aug) Hourly 4 (Aug) (1300hrs)
समाचार प्रभात 4 (Aug) दोपहर समाचार 3 (Aug) समाचार संध्या 3 (Aug) प्रति घंटा समाचार 4 (Aug) (1310hrs)
Khabarnama (Mor) 4 (Aug) Khabrein(Day) 4 (Aug) Khabrein(Eve) 3 (Aug)
Aaj Savere 4 (Aug) Parikrama 2 (Aug)

Listen Programs

Market Mantra 3 (Aug) Samayki 3 (Aug) Sports Scan 23 (Mar) Spotlight/News Analysis 3 (Aug) Samachar Darshan 22 (Mar) Radio Newsreel 21 (Mar)
    Public Speak

    Country wide 12 (Mar) Surkhiyon Mein 29 (Jul) Charcha Ka Vishai Ha 11 (Mar) Vaad-Samvaad 17 (Mar) Money Talk 17 (Mar) Current Affairs 6 (Mar) Sanskrit Saptahiki 1 (Aug)
  • Money Matters 22 (Mar)
  • International News 22 (Mar)
  • Press Review 23 (Mar)
  • From the States 23 (Mar)
  • Let's Connect 22 (Mar)
  • 360°- Ek Parivesh 23 (Mar)
  • Know Your Constitution 30 (Jan)
  • Ek Bharat Shreshta Bharat 22 (Mar)
  • Sanskriti Darshan 23 (Mar)
  • Fit India New India 23 (Mar)
  • Weather Report 21 (Mar)
  • North East Diaries 22 (Mar)
  • 150 Years of Bapu 22 (Mar)
  • Sector Specific Discussions 22 (Mar)