A- A A+
Last Updated : Jul 14 2020 10:34AM     Screen Reader Access
News Highlights
India, China to hold Corps Commander-level talks at Chushul in Eastern Ladakh today            Political crisis continues in Rajasthan; Congress calls another legislative party meet in Jaipur today            Govt aims to increase public health expenditure to 2.5% of GDP by 2025            19 States, UTs report higher recovery rate than national average of 63.01%            WHO calls upon countries for comprehensive strategies to deal with Covid pandemic           

Text Bulletins Details


समाचार प्रभात

0800 HRS
27.05.2020
मुख्य समाचार
  • कोविड-19 संक्रमण और मृत्युदर के वैश्विक औसत की तुलना में भारत की स्थिति बेहतर।
  • स्वास्थ्य मंत्रालय ने लोगों से संक्रमण का फैलाव रोकने के लिए बार-बार हाथ धोने और सुरक्षित दूरी बनाए रखने की अपील की।
  • स्वदेश लौट रहे लोगों के लिए होटल संगरोध की अवधि चौदह दिन से घटाकर सात दिन की गयी।
  • उत्तर प्रदेश सरकार ने पंद्रह लाख प्रवासी श्रमिकों के कौशल स्तर का डेटा बेस तैयार किया, प्रवासी आयोग इनके लिए रोज़गार सुनिश्चित करेगा।
  • देश में ही निर्मित हल्के लड़ाकू विमान तेजस के दूसरे स्क्वा़ड्रन का संचालन आज तमिलनाडु के सुलूर बेस से शुरू।
  • लगातार बारिश से पूर्वोत्तर राज्यों में जनजीवन अस्त-व्यस्त।

-------------

कोविड-19 महामारी के खिलाफ संघर्ष में, प्रति एक लाख की आबादी पर संक्रमण और मृत्यु दर के वैश्विक औसत की तुलना में भारत की स्थिति काफी बेहतर है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारी ने नई दिल्ली में संवाददाताओं को बताया कि पूर्णबंदी और सरकार के नियंत्रण उपायों के कारण भारत में प्रति एक लाख की आबादी पर दस दशमलव सात लोग संक्रमित हैं जबकि विश्व में यह संख्या 69 दशमलव 9 है। अधिकारी ने बताया कि विश्व में इस महामारी से मौत का आंकड़ा प्रति एक लाख की आबादी पर चार दशमलव पांच है जबकि भारत में यह शून्य दशमलव तीन है। उन्होंने बताया कि भारत में सही समय पर पूर्णबंदी लागू करने और संक्रमण रोकने के उपायों के कारण कोविड-19 से मृत्यु दर दो दशमलव आठ-सात प्रतिशत है।
स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि संक्रमण से उपचार के बाद स्वस्थ होने की दर बढ़कर 41 दशमलव छह-एक प्रतिशत हो गई है जबकि यह मार्च में सात दशमलव एक प्रतिशत थी।
अब देश में 60490 पीपुल रिकवर हो गए हैं और उसके साथ ही जो हमारा रिकवरी रेट 7.1 परसेंट करीब मार्च में था, वह बढ़ते-बढ़ते 11.42 परसेंट ज‍बकि हमने सेकेंड लॉकडाउन शुरू किया। थर्ड लॉकडाउन शुरू करने के समय पर वह बढ़कर 26.59 परसेंट हुआ और आज हम देख रहे हैं कि फील्‍ड में एफटर्स करने की वजह से वह लॉकडाउन के इस परेजेंट टाइम‍ में बढकर 41.61 परसेंट हो चुका है।
स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारी ने लोगों से बार-बार हाथ धोने, मास्क लगाने और सुरक्षित दूरी बनाए रखने के उपायों का पालन करने की अपील की। उन्होंने कहा कि संक्रमण का फैलाव रोकने के लिए एहतियाती उपाय जरूरी हैं। उन्होंने कहा कि इस महामारी से मरने वालों में लगभग 50 प्रतिशत वृद्ध लोग है जबकि 73 प्रतिशत मृतक अन्य रोगों से भी ग्रस्त थे।
करीब 50 परसेंट डेथ केसेज एलडरी पोपुलेशन में रिपोर्ट हुए हैं और साथ ही करीब 73 परसेंट केसेज जो डेथ के हैं वो पीपुल वीद लॉ कॉमो‍र्बिडिटि में रिपोर्ट हुए हैं। तो हम प्रिवेंटिव एस्‍पेक्टस को लेते हुए अपने घर में जो एलडरी हैं, अपने घर में जो वनरेबल पोपुलेशन है उन सबको बचाने के लिए सारे प्रि‍वेन्‍टि‍व स्‍टेप्स लें। अगर हमारे को कोई भी ऐसा केस दिखता है कि जिसमें कोई हमारे को सिम्‍टम्स हैं तो हम गर्वमेंट द्वारा ओरगनाइज  की फेसिलिटिज को एक्‍सेज करेंगे।
भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद के महानिदेशक बलराम भार्गव ने कहा कि मौजूदा समय में एक लाख से अधिक नमूनों की जांच प्रति दिन की जा रही है। उन्होंने बताया कि देश में इस समय 612 प्रयोगशालाओं में जांच हो रही है जिनमें 430 सरकारी और 182 निजी प्रयोगशालाएं हैं।
हाइड्रोक्सीक्लोरोक्विन दवा के उपयोग के बारे में परिषद के महानिदेशक ने कहा कि इसका व्यापक उपयोग मलेरिया रोधी दवा के रूप में होता है और इसके विषाणु रोधी गुणों के कारण परिषद ने समुचित निगरानी में परीक्षण आधार पर इसके प्रयोग की सिफारिश की थी। उन्होंने कहा कि अध्ययन में हाइड्रोक्सीक्लोरोक्विन का कोई बड़ा साइड इफेक्ट नहीं पाया गया है।

--------------

स्‍वास्‍थ्‍य सचिव प्रीति सूदन ने स्‍वास्‍थ मंत्रालय के अन्‍य वरिष्‍ठ अधिकारियों के साथ कल वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से उच्‍चस्‍तरीय समीक्षा बैठक की। उत्‍तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, छत्‍तीसगढ़ और मध्‍य प्रदेश के मुख्‍य सचिवों, स्‍वास्‍थ्‍य सचिवों और राष्‍ट्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मिशन के निदेशक मौजूद थे।  इन राज्‍यों में पिछले तीन सप्‍ताह में कोविड-19 के मामलों में काफी वृद्धि हुई है। इस दौरान पूर्णबंदी के नियमों में छूट और एक राज्‍य से दूसरे राज्‍य में आने-जाने की अनुमति दी गई है।
बैठक में राज्‍यों को मृत्‍यु दर, रोगियों की संख्‍या के दोगुना होने की अवधि, परीक्षण की दर और संक्रमण के प्रसार के बारे में जानकारी दी गई। इसके अतिरिक्त रोकथाम की कारगर रणनीति पर भी चर्चा हुई।
राज्‍यों से कहा कि टीबी, कुष्‍ठ रोग और उच्‍च रक्‍तचाप तथा मधुमेह जैसे गैर-संचारी रोगों के उपचार के लिए भी तत्‍काल कदम उठाए जाएं।
सभी राज्‍य घर-घर जाकर सर्वेक्षण कराने के लिए परीक्षण करने, रोगियों के संपर्क में आए व्‍यक्तियों का पता लागने और कारगर चिकित्‍सा प्रबंधन की व्‍यवस्‍था करने पर सहमत थे।

--------------

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री डॉक्‍टर हर्षवर्धन ने कहा है कि कोविड -19 महामारी से बाहर आने के लिए पूरी दुनिया के लिए रोग का उपचार, लक्षणों की जांच और टीका ही उपाय है। उन्‍होंने एक ट्वीट संदेश में कहा कि इसके जोखिम, अनुसंधान, औषधि उत्‍पादन और वितरण के लिए वैश्विक संसाधनों को जुटाना इसी शर्त पर हो सकता है कि इसका परिणाम सबके लिए उपलब्‍ध हो। उन्‍होंने गेट्स फाउंडेशन से स्‍वास्‍थ्‍य सेवा में सुधार की नई  पद्धतियां अपनाने में भूमिका बढ़ाने का आह्वान किया। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री गेट्स फाउंडेशन के ट्वीट का जवाब दे रहे थे जिसमें विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन के कार्यकारी मंडल का अध्‍यक्ष चुने जाने पर  बधाई दी गई थी। डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि उनका सिद्धांत के लिए स्‍वास्‍थ्‍य सुनिश्चित करना है। उन्‍होंने कहा कि स्‍वास्‍थ्‍य क्षेत्र में होने वाली उन्‍नति वंचित लोगों के साथ साझा की जानी चाहिए ताकि धरती सुरक्षित और स्‍वस्‍थ हो सके। 
उन्‍होंने यह भी कहा कि सभी लोगों को आयुष्‍मान भारत योजना में  शामिल किया जाएगा और पचास करोड भारतीयों के स्‍वास्‍थ्‍य बीमा का लक्ष्य है इस सप्‍ताह तक देश में एक करोड लोगों को इसका लाभ मिला है।

-------------

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोविड-19 महामारी का प्रसार रोकने के लिए लोगों से हाथ धोने और सुरक्षित दूरी के नियमों का पालन करने की अपील दोहराई है। मंत्रालय ने ट्वीटर पर कहा कि नए दिशा-निर्देशों के अनुसार लोगों को हमेशा सुरक्षित दूरी बनाए रखने, साबुन और पानी से हाथ धोने या एल्कोहल युक्त हैंड सैनिटाइज़र के प्रयोग जैसे नियमों का पालन करना चाहिए। सार्वजनिक स्थानों पर थूकना दंडनीय अपराध बनाया गया है। इससे वायरस के प्रसार का जोखिम भी बढ़ सकता है।
स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने लोगों से बाहर निकलते समय फेस मास्‍क के प्रयोग पर जोर दिया है ताकि कोरोना वायरस के संक्रमण को रोका जा सके। इसके साथ ही लोगों से यह भी कहा गया है कि वे सही सूचनाओं का प्रसार करें और इस बिमारी के लक्षण पाए जाने वाले व्‍यक्तियों को जांच कराने के प्रति जागरूक करें। स्टिग्‍मा को दूर करने की जरूरत है क्‍योंकि इसकी वजह से लोगों की शीघ्र मदद में देरी हो सकती है जिससे उनका स्‍वास्‍थ्‍य और बिगड़ सकता है। लोगों की सुरक्षा के लिए यह जरूरी है कि वे दो गज की दूरी का पालन करें। साथ ही उन्‍हें अपने नाक और मुंह को भी छुने से बचना चाहिए, लोगों को तम्‍बाकू सेवन का प्रयोग नहीं करना चाहिए तथा सार्वजनिक स्‍थानों पर नहीं थूकना चाहिए। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने यह भी कहा है कि यदि किसी व्‍यक्ति को इस बिमारी के लक्षण दिखते हैं तो उसे हेल्‍पलाइन नंबर 1075 पर संपर्क करना चाहिए। आनंद कुमार, आकाशवाणी समाचार, दिल्‍ली।

-------------

देश में कोविड-19 रोगियों के सम्पर्क में आए रोगियों का पता लगाने, संक्रमण के क्षेत्रों की जानकारी और स्व-आकलन के लिए महत्वपूर्ण मोबाइल ऐप आरोग्य सेतु अब ओपन सोर्स हो गया है। नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कांत ने कल नई दिल्ली में यह घोषणा करते हुए कहा कि पारदर्शिता, निजता और सुरक्षा आरंभ से ही आरोग्य सेतु के मुख्य सिद्धांत रहे हैं। उन्होंने कहा कि विश्व में कहीं भी किसी भी सरकारी उत्पाद को इस हद तक ओपन सोर्स नहीं किया गया है।

--------------

केन्‍द्र ने राज्‍यों से सुनिश्चित करने को कहा है कि स्‍वदेश लौट रहे भारतीयों से संगरोध अ‍वधि के लिए होटलों द्वारा लिया गया हफ्तेभर का अतिरिक्‍त शुल्‍क लौटा दिया जाए। स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण मंत्रालय ने ऐसे लोगों के लिए शुरूआती सात दिन होटल में संगरोध में रहने और बाद के सात दिन घर में पृथकवास में रहने के संशोधित दिशा-निर्देश जारी किए थे। विदेशों से लौट रहे भारतीयों ने 14 दिन के लिए होटल की अग्रिम बुकिंग करा ली थी।
केन्‍द्रीय गृह सचिव अजय भल्‍ला ने राज्‍यों के मुख्‍य सचिवों को लिखे पत्र में कहा है कि कुछ होटल सात दिन का अग्रिम भुगतान लौटाने से इंकार कर रहे हैं, उन्हें केवल सात दिन का शुल्‍क लेने का निर्देश दिया जाए। 

--------------

केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता प्रकाश जावड़ेकर ने कांग्रेस की आलोचना करते हुए कहा है कि जब पूरा देश कोविड-19 महामारी से संघर्ष में लगा है, कांग्रेस पार्टी इसे लेकर राजनीति कर रही है।
श्री जावड़ेकर ने कल नई दिल्ली में संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि पूरा विश्व सही समय पर लॉकडाउन लागू करने के लिए भारत की प्रशंसा कर रहा है, वहीं कांग्रेस इसकी आलोचना कर रही है। उन्होंने कहा कि श्री राहुल गांधी ने पूर्णबंदी के बारे में गलत जानकारियां दी जिससे स्पष्ट है कि कांग्रेस किस तरह की राजनीति कर रही है।
दुनिया के बहुत सारे प्रमुख देशों में और चीन में जिस तरह से नुकसान हुआ, उस तुलना में भारत का नुकसान कम रहा। इसके लिए पूरी दुनिया भारत की प्रशंसा कर रही है कि सही समय पर ल़ॉकडाउन रहा। लेकिन जिसकी पूरी दुनिया प्रशंसा करती है, उसका कांग्रेस विरोध करती है।

  -------------

वंदे भारत मिशन के तहत विभिन्न देशों से सोमवार तक 158 उड़ानों से 30 हजार से अधिक लोग स्वदेश लौट चुके हैं। नागरिक उड्डनमंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि भारत से 164 उड़ानों से 10 हजार से अधिक विदेशी नागरिक वापस गए हैं। उन्होंने बताया कि वंदे भारत मिशन के अन्‍तर्गत मध्य जून तक 49 हजार और लोगों को लाया-ले जाया जाएगा। 

--------------

पश्चिम बंगाल में घरेलू उड़ान सेवाएं कल से फिर शुरू हो जाएंगी। इसके अंतर्गत कोलकाता के नेताजी सुभाष चंद्र बोस अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे, सिलिगुड़ी में बागडोगरा और पश्चिमी बर्दवान जिले में अंदल हवाई अड्डे से विमान सेवाएं चलेंगी। देश के अन्य राज्यों में सोमवार से घरेलू उडानें फिर शुरु हुईं, लेकिन पश्चिम बंगाल सरकार के आग्रह के बाद राज्य के लिए यह निर्णय तीन दिन तक टाल दिया गया था। पश्चिम बंगाल सरकार ने घरेलू विमान यात्रियों के लिए दिशा-निर्देश जारी किए हैं।

--------------

घरेलू विमान सेवा शुरू होने के आज तीसरे दिन चेन्‍नई हवाई अड्डे से 21 विमान रवाना होंगे और इतने ही विमान उतरेंगे। कल हवाई अड्डे पर सुरक्षा मानकों का पालन करते हुए 41 उड़ानें संचालित हुईं।
इस बीच, राज्‍य में कल 642 लोगों में काविड-19 संक्रमण की पुष्टि हुई। राज्‍य में कोरोना से संक्रमित रोगियों की संख्‍या अब 17 हजार सात सौ 28 हो गयी है। कल संक्रमण की पुष्टि वाले लोगों में 59 चेन्‍नई से है जबकि 49 व्‍यक्ति अन्‍य राज्‍यों से तथा पांच व्‍यक्ति विदेश से आये हैं। कल कोरोना से नौ लोगों की मृत्‍यु होने के साथ ही राज्‍य में इस महामारी से मरने वालों की संख्‍या एक सौ 27 हो गयी है। इनमें से अधिकतर लोग अन्‍य बीमारियों से भी पीडि़त थे। 611 रोगी स्‍वस्‍थ होने के बाद घर जा चुके हैं। और ब्यौरा हमारे संवाददाता से-
तमिलनाडु सरकार ने आजीवि‍का कार्यों में तेजी लाने के लिए मशीन चालित नौकाओं से मछली पकड़ने पर प्रतिबंध, मौजूदा 61 दिन से घटाकर 47 दिन कर दिया है। पूर्वी तटीय क्षेत्र में मछुआरों को पहली जून से मछली पकड़ने के लिए समुद्र में जाने की अनुमति दी गयी है। पहले इस पर 14 जून तक प्रतिबंध रहता था। पश्चिमी तटीय क्षेत्र में मछुआरे पहली अगस्‍त से मछली पकड़ने का काम शुरू कर सकते हैं। यह कदम इस लिए उठाया गया है कि मछुआरे लॉकडाउन के कारण समुद्र में जा नहीं पाये थे। राज्‍य मत्‍स्‍य पालन विभाग के अनुसार, केन्‍द्र ने देश के आर्थिक ज़ोन में प्रतिबंध अवधि कम करने की अनुमति दे दी है। लेकिन मछुआरों ने 15 जून से मछली पकड़ने का फैसला किया है क्‍योंकि उनके सहयोग के लिए मजदूरों को अपने मूल निवास से वापस आना है। चेन्‍नई से जयसिंह की रिपोर्ट के साथ समाचार कक्ष से कुमार राधारमण।

-------------

सोमवार तक अलग-अलग राज्‍यों से 3 हजार 274 श्रमिक स्‍पेशल रेलगाडि़यां चलाई जा चुकी हैं। इन रेलगाडि़यों से 44 लाख से अधिक लोगों को उनके घर पहुंचाया गया है। रेल विभाग ने इन यात्रियों को 74 लाख से अधिक भोजन के पैकेट और एक करोड़ से अधिक पानी की बोतलें निशुल्क उपलब्‍ध कराईं हैं। रेल विभाग ने श्रमिक स्‍पेशल रेलग‍ाडि़यों के अलावा एक जून से दो सौ अतिरिक्‍त रेलगाडि़यां चलाने की योजना बनाई है।

--------------

भारतीय रेल बड़ी संख्या में प्रवासी श्रमिकों को उनके गृह राज्य पहुंचा रहा है। रेलवे के एक वरिष्ठ अधिकारी ने आकाशवाणी से विशेष बातचीत में कहा कि श्रमिक स्पेशल रेलगाड़ियों से 45 लाख प्रवासी कामगारों को भेजा गया है।
बहुत बड़े स्तर पर यह ऑपरेशन चल रहा है जिसमें कि हम श्रमिक ट्रेनों के माध्यम से लोगों को एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जा रहे हैं। और इसमें  हमने बहुत बड़े पैमाने में लोगों को अब तक ले जा चुके हैं। ये ट्रेनें सभी राज्यों से, मैनली गुजरात, महाराष्ट्र, राजस्थान, दिल्ली, पंजाब, इन सभी राज्यों से चलाई जा रही हैं। तैंतीस सौ के करीब यह ट्रेन हम चला चुके हैं और करीब पैंतालीस लाख पैंसेजर्स को हम एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जा चुके हैं।
रेलवे अधिकारी ने बताया कि रेल किरायों में रोगियों और दिव्यांगों को ही रियायत दी जाएगी। अन्य यात्रियों को किसी प्रकार की कोई छूट नहीं मिलेगी।
सभी कंसेशन जो हमारी मैन कैटेगिरी के हैं, वो सभी कंसेशन जैसे कि पेशेंट हैं, दिव्यांगजन हैं, इनको छूट मिलेगी। लेकिन इन दो कैटेगिरी के अलावा जो लोग हैं, उनको अभी रिज़र्वेशन में कोई छूट नहीं है। जो सीनियर सिटीजंस हैं, उनको रिज़र्वेशन में छूट नहीं है लेकिन उनका कोटा निर्धारित है। मतलब यह की अगर कोई सीनियर सिटीजन यात्रा करना चाहते हैं, हम नहीं चाहते हैं कि बहुत बुजुर्ग लोग ट्रेन में चलें आजकल। तो इस हेतु हम डिस्करेज करने के लिये यदि हमने कंसेशन ओपन नहीं किये हैं, लेकिन अगर आकास्मिकता के आधार पर किसी को चलना पड़ता है तो उसके लिए कोटा ज़रूर रहेगा कि वो लोअर बर्थ उनको प्राप्त हो जाए।

-------------

देश के विभिन्‍न भागों से प्रवासी मजदूरों का बिहार आना अब भी जारी है। 17 लाख से अधिक प्रवासी एक हजार एक सौ 35 विशेष श्रमिक रेलगाडि़यों से बिहार के विभिन्‍न भागों में पहुंच चुके हैं।
गुजरात, महाराष्ट्र और दिल्ली से सबसे अधिक प्रवासी कामगार बिहार लौट रहे हैं। मुख्य सचिव दीपक कुमार ने कहा है कि महाराष्ट्र से लौटने वाले सभी इच्छुक  कामगारों के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेनों का इंतजाम किया जाएगा। इस समय लगभग 12 लाख प्रवासी मजदूरों को प्रखंड स्तर पर बने 14 हजार से अधिक क्वारंटीन सेंटर में रखा गया है। कामगारों की बढ़ती संख्या को देखते हुए उन्हें अब होम क्वारंटाइन में रहने का निर्देश दिया गया है। 14 दिनों तक प्रत्येक दिन उऩके स्वास्थ्य की जांच की जाएगी। इस दौरान यदि किसी में कोरोना का लक्षण मिलता है तो उनके नमूने लेकर संक्रमण की पुष्टि की जाएगी और अस्पताल में भर्ती किया जाएगा। अब तक लगभग दो हजार प्रवासी कामगारों में पॉजिटिव मामलों का पता चल चुका है। आकाशवाणी समाचार के लिए पटना से कृष्णकुमार लाल।

-------------

अडंमान निकोबार द्वीप समूह विमान सेवा शुरू होने के बाद अब समुद्री मार्ग से भी फिर से जुड़ने जा रहा है। कल एम.वी.नानकोरी नामक पोत फंसे यात्रियों को चेन्‍नई से लेकर रवाना हुआ।
हवाई सेवा शुरू होने के बाद अंडमान निकोबार अब समुद्री मार्ग से भी मुख्यभूमि से जुड़ने जा रहा है। कल देर शाम जलयान एम. वी ननकौड़ी एक सौ तिरेसठ फंसे हुए लोगों को लेकर चेन्नई के लिए रवाना हो गया। इसके उनतीस मई को चेन्नई पहुंचने की संभावना है। जहाज़ पर चढ़ने से पहले जारी दिशा-निर्देंशों के अनुसार सभी यात्रियों की चिकित्सा जांच की गई और यात्रियों के सामान तथा यात्री क्षेत्र को पूरी तरह से सैनिटाईज़ किया गया। इसके साथ ही जहाज़ पर सवार यात्रियों को चेन्नई या उससे आगे की यात्रा करने के लिए विशेष पास भी जारी किए गए हैं। लोगों की यात्रा को सुगम बनाने के उद्देश्य से अन्य संबधित राज्यों के साथ तालमेल बैठाने के लिए प्रशासन ने इस यात्रा के बारे में इन्हें सूचित किया है। बाहरी द्वीपों के फंसे हुए यात्रियों को प्रशासन द्वारा जलयान और बसों की व्यवस्था कर सुनियोजित तरीके से इस जहाज़ यात्रा के लिए पोर्ट ब्लेयर भी पहुंचाया गया। इसके साथ ही 28 मई को एम. वी निकोबार शाम पांच बजे फंसे हुए यात्रियों को लेकर चेन्नई से पोर्ट ब्लेयर के लिए छूटेगा। आकाशवाणी समाचार के लिए पोर्ट ब्लेयर से मैं गौरव पटवाल।

--------------

उत्‍तर प्रदेश सरकार ने लॉकडाउन के दौरान अन्‍य राज्‍यों से लौटे लगभग 15 लाख प्रवासी कामगारों के कौशल स्‍तर का डेटाबेस तैयार कर लिया है। इससे राज्‍य सरकार को इन कामगारों को पास की ही किसी जगह पर काम दिलाने में मदद मिलेगी। राज्‍य सरकार ने प्रवासी आयोग का गठन भी किया है जो कामगारों के लिए रोजगार के साथ-साथ सामाजिक सुरक्षा भी सुनिश्चित करेगा।
प्रवासी आयोग ये सुनिश्चित करेगा कि सामाजिक सुरक्षा की गारंटी देने के बाद ही किसी राज्य को उत्तर प्रदेश के मजदूरों और कामगारों की सेवा दी जाए। इस बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों से कहा है कि दूसरे राज्यों को पत्र लिखकर कामगारों की सूची मांगी जाए जो अभी भी उत्तर प्रदेश वापस आना चाहते हैं और सरकार उनकी वापसी सुनिश्चित करेगी। उन्होंने कामगारों की स्किल मैपिंग का काम अगले 15 दिनों के भीतर पूरा करने के निर्देश दिए हैं। अब तक प्रदेश में स्किल मैपिंग के पहले चरण में लगभग 15 लाख प्रवासी कामगारों ने अपना पंजीकरण कराया है। इसमें ऑटो मैकेनिक, बिजली मिस्त्री और सिलाई जैसे काम शामिल हैं। राज्य सरकार मजदूरों को स्किल ट्रेनिंग देने और भत्ता मुहैया कराने के साथ ही उन्हें बीमा कवर भी दिलाएगी। सुशील चंद तिवारी, आकाशवाणी समाचार, लखनऊ।

--------------

भारतीय वायु सेना कोयम्‍बतूर के पास सुलूर बेस में हल्‍के लड़ाकू विमान-तेजस के साथ अपने नम्‍बर-18 फ्लाइंग बुलेट्स स्‍क्‍वाड्रन का आज से संचालन शुरू कर रही है। वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आर. के. एस. भदौरिया इसका उद्घाटन करेंगे। देश में ही निर्मित इस हल्‍के लड़ाकू विमान को सभी मानकों के साथ पूर्ण संचालन की मंजूरी मिल गयी है।
फ्लाइंग बुलेट्स आधुनिक बहुआयामी लडाकू विमान के साथ संचालित होने वाला वायु सेना का दूसरा स्‍क्‍वाड्रन है। एलसीए तेजस विमान के साथ पहले स्‍क्‍वाड्रन को नम्‍बर 45 फ्लाइंग डैगर्स के नाम से जाना जाता है और उसका मुख्‍यालय भी इसी बेस में है।
रक्षा मंत्रालय की विज्ञप्ति में बताया गया है कि नम्‍बर-18 स्‍क्‍वाड्रन का गठन 1965 में हुआ था और श्रीनगर से संचालित और वहां उतरने वाला यह पहला स्‍क्‍वाड्रन था। इस स्‍क्‍वाड्रन से कुछ सैनिकों को 1971 में पाकिस्‍तान के साथ युद्ध के दौरान परमवीर चक्र से सम्‍मानित किया गया था। इस स्‍क्‍वाड्रन को इस वर्ष सुलूर बेस में पहली अप्रैल से फिर शुरू किया गया है।
एलसीए तेजस चौथी पीढ़ी का लडाकू विमान है जिसे हिंदुस्‍तान एरोनॉटिक्‍स लिमिटेड ने तैयार किया। इस विमान में फ्लाई बाई वायर उड़ान नियंत्रित प्रणाली, एकीकृत डिजिटल वैमानिकी और बहुआयामी रडार प्रणाली है। इस सुपर सोनिक लड़ाकू विमान को अपनी तरह का सबसे हल्‍का और सबसे छोटा विमान माना जा रहा है।

--------------

प्रत्येक दो वर्ष पर होने वाले सैन्‍य कमांडर सम्‍मेलन का पहला चरण आज से शुरू हो रहा है। सम्‍मेलन 29 मई तक चलेगा। कोरोना संकट के कारण यह सम्‍मेलन अप्रैल में नहीं हो  सका और अब इसे दो चरणों में कराने का निर्णय लिया गया है। दूसरा चरण जून के अंतिम सप्‍ताह में शुरू होगा।

-------------

राजस्‍थान में अब तक सात हजार 536 लोग कोरोना संक्रमित हैं। इनमें से 236 पॉजिटिव मामलों का कल पता चला। प्रदेश में कोरोना से अब तक 170 लोगों की मौत हुई है।  एक रिपोर्ट
राज्य में कोरोना के कुल सक्रिय मरीजों में से 65 प्रतिशत से ज्यादा संख्या अन्य राज्यों से लौटे प्रवासियों की है। अब तक 2011 प्रवासियों में संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है। आदिवासी जिले डूंगरपुर में अब तक 291 प्रवासी संक्रमित पाये जा चुके हैं। राज्य सरकार ने कहा है कि 21 हजार लोगों को संस्थागत संघरोध केंद्रों में रखा गया है। क्वारंटीन के उल्लंघन के मामलों में अब तक 700 से ज्यादा लोगों के खिलाफ कार्यवाही की गयी है। इस बीच, राज्य के उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने बताया कि राजस्थान में मनरेगा के तहत श्रमिक नियोजन 40 लाख से ज्यादा लोगों का हो चुका है। -जितेन्द्र द्विवेदी, आकाशवाणी समाचार, जयपुर।

 -------------

मध्य प्रदेश में, अन्य राज्यों से लौटे श्रमिकों को सुनिश्चित रोजगार उपलब्ध कराने के लिए, राज्य में एक सर्वेक्षण किया जा रहा है। इस सर्वेक्षण का उद्देश्य श्रमिकों को रोजगार के साथ-साथ राज्य की संबल योजना से जोड़ना है। हमारे संवाददाता ने बताया है कि कल से शुरू हुआ यह सर्वेक्षण तीन जून तक चलेगा।
आधिकारिक जानकारी के अनुसार, श्रम विभाग ने इस सर्वेक्षण से संबंधित एक कार्य योजना सभी कलेक्टरों को भेजी है। मजदूरों के सर्वेक्षण का कार्य ग्राम पंचायतों में पंचायत सचिव और रोजगार सहायकों द्वारा और शहरी क्षेत्रों में वार्ड प्रभारियों द्वारा मोबाइल ऐप के माध्यम से किया जाएगा। सर्वेक्षण के बाद, प्रवासी मजदूरों को विभिन्न सरकारी योजनाओं जैसे मनरेगा और प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का लाभ मिल सकेगा। इस बीच, अतिरिक्त मुख्य सचिव और राज्य नियंत्रण कक्ष प्रभारी आईसीपी केशरी ने जानकारी दी है कि कोरोना के प्रकोप के कारण विभिन्न राज्यों में फंसे 5 लाख 45 हजार मजदूरों को अब तक मध्य प्रदेश वापस लाया जा चुका है। श्री केशरी ने बताया कि अब तक 129 ट्रेनें राज्य में आ चुकी हैं और अभी कुछ और ट्रेनों के आने की संभावना है। वहीं, राज्य के बाहर के लगभग 4 लाख 30 हजार मजदूरों को भी बसों द्वारा उनके गृह राज्यों में पहुँचाया गया है।-संजीव शर्मा, आकाशवाणी समाचार, भोपाल

--------------

लगातर बारिश के कारण पूर्वोत्‍तर राज्‍यों में जनजीवन अस्‍त-व्‍यस्‍त हो गया है। मौसम विभाग ने असम के कई जिलों में अगले दो-तीन दिन में अलग-अलग स्‍थानों पर गरज के साथ आंधी और भारी वर्षा का अनुमान लगाया है। राज्‍य के सात जिलों में करीब दो लाख लोग बाढ़ की चपेट में हैं। ग्‍वालपाड़ा और तिनसुकिया जिलों में लगभग नौ हजार लोगों ने राहत शिविरों में शरण ले रखी है।

--------------

अरुणाचल प्रदेश में पिछले कुछ दिनों में हुई भारी वर्षा ने राज्य भर में कई स्थानों पर जनजीवन अस्त-व्यस्त कर दिया है। बारिश के कारण बाढ़ और भूस्खलन से कई आंतरिक स्थानों पर सड़क संपर्क टूट गया है।
दिबांग वैली जिले में सोमवार को भूस्खलन के कारण एक परिवार के तीन लोगों की जान चली गई। मुख्यमंत्री पेमा खांडू ने मृतकों के परिजनों को 4 लाख रुपए की सहायता राशि देने की घोषणा की है। ईस्ट सिआंग जिला प्रशासन ने एक एडवाइजरी में  लोगों को सिसारी पुल के माध्यम से पासीघाट-रोइंग मार्ग का उपयोग न करने को कहा हैं।  पिछले कुछ दिनों से भारी बारिश के चलते उस मार्ग के कई हिस्सों में चट्टान खिसकने की सूचना के चलते प्रशासन ने ये एडवाइजरी जारी की है।  राज्य सरकार ने सभी जिला उपायुक्तों और आपदा प्रबंधन विभाग को नियमित तौर पर स्थिति की निगरानी के लिए निर्देश जारी किए हैं। राकेश डोले, आकाशवाणी समाचार, इटानगर।

--------------

और अब एक नज़र देश के विभिन्‍न भागों में आज के मौसम के पूर्वानुमान पर-
राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली में तेज गर्मी जारी रहेगी तथा अधिकतम तापमान 46 डिग्री सेल्सियस और न्‍यूनतम 28 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान है। पश्चिमी भाग की बात करें तो मुम्‍बई में आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे। अधिकतम तापमान 35 डिग्री और न्‍यूनतम 28 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहेगा। दक्षिण चलें तो चेन्‍नई में भी बादल छाए रहने का अनुमान है। तापमान 30 से 36 डिग्री सेल्सियस के बीच रहेगा। पूरब की बात करें तो कोलकाता में बादल छाए रहेंगे और गरज के साथ वर्षा हो सकती है। अधिकतम तापमान 35 और न्‍यूनतम 29 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान व्‍यक्‍त किया गया है। उत्तर चलें तो केन्‍द्रशासित प्रदेश जम्‍मू-कश्‍मीर के जम्‍मू में न्‍यूनतम तापमान 25 डिग्री और अधिकतम 42 डिग्री सेल्सियस रहेगा। आसमान साफ रहेगा, लेकिन दोपहर बाद या शाम तक बादल घिरने का अनुमान है। श्रीनगर में न्‍यूनतम तापमान 13 डिग्री और अधिकतम 32 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान व्‍यक्‍त किया गया है। आसमान साफ रहेगा लेकिन दोपहर बाद या शाम तक बादल घिर सकते हैं। मौसम विभाग ने गिलगित में न्‍यूनतम तापमान 13 डिग्री और अधिकतम 36 डिग्री सेल्सियस रहने और आसमान साफ रहने का अनुमान व्यक्त किया है। मुजफ्फराबाद में भी आसमान साफ रहेगा लेकिन दोपहर या शाम तक बादल घिर सकते हैं। न्‍यूनतम तापमान 19 डिग्री और अधिकतम 39 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान है। समाचार कक्ष से अलका सिंह।

  -------------

आकाशवाणी का समाचार सेवा प्रभाग फोन इन कार्यक्रम संवाद में आज रेलवे पर विशेष कार्यक्रम प्रसारित करेगा। कार्यक्रम एफएम गोल्ड और अतिरिक्त मीटरों पर शाम सात बजकर दस मिनट से प्रसारित होगा। 
श्रोता स्‍टूडियो में फोन कर विशेषज्ञों से यात्री रेलगाड़ियों के बारे में सवाल पूछ सकते हैं। हमारा टोल‍-फ्री नम्‍बर है- 1 8 0 0 1 1 5 7 6 7. स्टूडियो में 0 1 1 2 3 3 1 4 4 4 4 पर फोन कर भी सवाल पूछे जा सकते हैं 

  --------------

आकाशवाणी का समाचार सेवा प्रभाग आज फोन इन कार्यक्रम में कोविड-19 पर विशेष परिचर्चा प्रसारित करेगा। कार्यक्रम रात नौ बजकर 30 मिनट से एफएम गोल्‍ड और अतिरिक्‍त मीटरों पर सुना जा सकता है।
श्रोता स्‍टूडियो में सीधे फोन कर विशेषज्ञ से सवाल पूछ सकते हैं। हमारा नम्‍बर है- 0 1 1 2 3 3 1 4 4 4 4. हमारा टोल‍-फ्री नम्‍बर है- 1 8 0 0 1 1 5 7 6 7.

--------------

आकाशवाणी का समाचार सेवा प्रभाग 'विशेषज्ञों की सलाह' श्रृंखला में कोविड-19 महामारी के बारे में वरिष्ठ चिकित्‍सा विशेषज्ञों की राय से अवगत कराता है। 
आकाशवाणी समाचार से बातचीत में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान-एम्‍स के निदेशक डॉक्‍टर रणदीप गुलेरिया ने लोगों से, विशेषकर अधिक संक्रमण वाले क्षेत्र के लोगों से कोरोना संक्रमण फैलाव की श्रृंखला तोड़ने के लिए लॉकडाउन उपायों का सख्ती से पालन करने की अपील की है।

समाचार पत्रों की सुर्खियों से:
  • लद्दाख में वास्‍तविक नियंत्रण रेखा पर भारत और चीन के बीच बढ़ती तनातनी की खबर सभी समाचार पत्रों में है। जनसत्‍ता की सुर्खी है- लद्दाख में नियंत्रण रेखा पर सैनिक बढ़ायेगा भारत।
  •  दैनिक जागरण का शीर्षक है- चीन का होगा डटकर मुकाबला। हिन्‍दुस्‍तान के अनुसार चीन सीमा पर प्रोजक्‍ट बंद नहीं करेगा भारत। पंजाब केसरी की सुर्खी है- चीन की हर चाल पर है भारत की पैनी नजर।
  • हिन्‍दुस्‍तान की सुर्खी है- देश में कोरोना से मृत्‍यु दर तीन प्रतिशत से कम हुई। अमर उजाला का शीर्षक है- साठ हजार से ज्‍यादा स्‍वस्‍थ, रिकवरी रेट 41 दशमलव छह हुआ। कोविड-19 पर प्रोफेसर जी वी एस मूर्ति का अनुमान देते हुए राष्‍ट्रीय सहारा लिखता है- भारत में नहीं होंगी आठ हजार से ज्‍यादा मौतें। नवभारत टाइम्‍स ने आई सी एम आर के हवाले से लिखता है- इलाज में जारी रहेगा हाईड्रॉक्‍सी क्‍लोरोक्‍वीन का इस्‍तेमाल, वैक्‍सीन का ह्यूमन ट्रायल जल्‍द। पत्र लिखता है- दिल्‍ली में सात दिन में पहली बार नये मरीज पांच सौ से नीचे। पंजाब केसरी लिखता है- महाराष्‍ट्र सरकार में सियासी हलचल, कोरोना से निपटने के मामले पर शिवसेना, राष्‍ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और कांग्रेस में मतभेद। भाजपा ने की राष्‍ट्रपति शासन लागू करने की मांग। राष्‍ट्रीय सहारा लिखता है- राहुल बोले हम महाराष्‍ट्र में प्रमुख भूमिका में नहीं।
  • अमर उजाला ने सुप्रीमकोर्ट के केन्‍द्र और रिजर्व बैंक से मांगा जवाब, ई एम आई में तीन माह की छूट तो ब्‍याज क्‍यों? याचिका में दावा, ई एम आई से छूट लेने पर ग्राहकों से इस अवधि के दौरान चक्रवृद्धि ब्‍याज वसूला जा रहा है, ऐसे में छूट का उद्देश्‍य ही खत्‍म।
  • देशभर में भीषण गर्मी के प्रकोप पर दैनिक जागरण की टिप्‍पणी है- अब 47 डिग्री पार हुआ राजधानी का पारा। राजस्‍थान पत्रिका ने नौ तपा का कहर जारी देते हुए लिखा है- चुरू दुनिया का सबसे गर्म शहर।

--------------

Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 14 (Jul) Midday News 13 (Jul) Evening News 13 (Jul) Hourly 14 (Jul) (1010hrs)
समाचार प्रभात 14 (Jul) दोपहर समाचार 13 (Jul) समाचार संध्या 13 (Jul) प्रति घंटा समाचार 14 (Jul) (1000hrs)
Khabarnama (Mor) 14 (Jul) Khabrein(Day) 13 (Jul) Khabrein(Eve) 13 (Jul)
Aaj Savere 14 (Jul) Parikrama 13 (Jul)

Listen Programs

Market Mantra 13 (Jul) Samayki 13 (Jul) Sports Scan 23 (Mar) Spotlight/News Analysis 13 (Jul) Samachar Darshan 22 (Mar) Radio Newsreel 21 (Mar)
    Public Speak

    Country wide 12 (Mar) Surkhiyon Mein 13 (Jul) Charcha Ka Vishai Ha 11 (Mar) Vaad-Samvaad 17 (Mar) Money Talk 17 (Mar) Current Affairs 6 (Mar) Sanskrit Saptahiki 12 (Jul)
  • Money Matters 22 (Mar)
  • International News 22 (Mar)
  • Press Review 23 (Mar)
  • From the States 23 (Mar)
  • Let's Connect 22 (Mar)
  • 360°- Ek Parivesh 23 (Mar)
  • Know Your Constitution 30 (Jan)
  • Ek Bharat Shreshta Bharat 22 (Mar)
  • Sanskriti Darshan 23 (Mar)
  • Fit India New India 23 (Mar)
  • Weather Report 21 (Mar)
  • North East Diaries 22 (Mar)
  • 150 Years of Bapu 22 (Mar)
  • Sector Specific Discussions 22 (Mar)