A- A A+
Last Updated : May 26 2020 8:34AM     Screen Reader Access
News Highlights
532 flights operated on the first day of resumption of domestic flights; Andhra Pradesh to resume flights today            Over 40 lakh migrant workers ferried by Railways in 3060 Shramik Special trains            PM Modi says India-UAE cooperation has grown even stronger during COVID-19 challenge            India utilised lockdown period to ramp up its healthcare infrastructure, says Health Minister            Uttar Pradesh govt to set up migration commission to help find jobs for workers returning from different States           

Text Bulletins Details


दोपहर समाचार

1415 HRS
02.04.2020

मुख्‍य समाचार

  • प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी ने देश में कोविड-19 महामारी से बचाव और कोरोना वायरस का फैलाव रोकने के उपायों के बारे में राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ चर्चा की।

  • सरकार ने सभी राज्‍यों और केन्‍द्रशासित प्रदेशों से फेक न्‍यूज को रोकने के लिए प्रभावी कदम उठाने का आग्रह किया।

  • सी-डॉट और दूरसंचार सेवा प्रदाताओं ने कोविड क्‍वारंटीन अलर्ट सिस्‍टम विकसित किया।

  • विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन ने कोविड-19 से निपटने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के सामाज कल्‍याण उपायों की सराहना की।

  • राष्‍ट्रपति, उप-राष्‍ट्रपति और प्रधानमंत्री ने रामनवमी के पावन पर्व पर लोगों को बधाई दी।

-----

प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी ने देश में कोविड-19 महामारी से बचाव और कोरोना वायरस का फैलाव रोकने के उपायों के बारे में राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियों कांफ्रेंस में चर्चा की। प्रधानमंत्री के साथ रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृहमंत्री अमित शाह और अनेक वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।


नोवल कोरोना वायरस के प्रसार के बाद यह दूसरा अवसर है जब प्रधानमंत्री ने मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियों कांफ्रेंस की है। इससे पहले 20 मार्च को प्रधानमंत्री ने मुख्यमंत्रियों से बात की थी।


-----

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदीयुरप्पा ने आज बेंगलुरू से वीडियो कांफ्रेंस में भाग लेते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ कोविड-19 महामारी से निपटने के उपायों पर विचार-विमर्श किया। ब्यौरा हमारे संवाददाता से-----


संक्रमण की वजह से आशा कर्मचारी घरों को जाकर यात्रा करने वालों की जानकारी पा रहे हैं। आज बेंगलूरू के सादिक नगर में आज लोगों ने एक आशा कार्यकर्ता पर हमला कर दिया। राज्‍य के उप मुख्‍यमंत्री सी एन अश्‍वथ नारायण ने आशा कर्मचारी के घर जाकर उनके स्‍वास्‍थ्‍य की जानकारी ली और आश्‍वासन दिया कि आरोपियों के खिलाफ ठोस कदम उठाया जायेगा। उप मुख्‍यमंत्री ने लोगों से गुजारिश की है कि संक्रमण के खिलाफ काम कर रहे कर्मचारियों को सभी सहयोग दिया जाये। सुधीन्‍द्रा आकाशवाणी समाचार बेंगलूरू।


-----

राष्‍ट्रपति राम नाथ कोविंद और उप-राष्‍ट्रपति एम वेंकैया नायडू सभी राज्‍यों और केन्‍द्र शासित प्रदेशों के राज्‍यपालों, उप-राज्‍यपालों और प्रशासकों के साथ कल राष्‍ट्रपति भवन से वीडियो कांफ्रेंसिंग करेंगे, जिसमें केन्‍द्र और राज्‍य स्‍तर पर कोविड-19 के प्रकोप से उत्‍पन्‍न संकट से निपटने के प्रयासों पर चर्चा की जायेगी।


-----

गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को पत्र लिखा है कि वे फर्जी खबरों को रोकने के लिए कारगार उपाय करें। पत्र में कहा गया है कि केंद्र सरकार लोगों के लिए एक वेबपोर्टल बना रही है ताकि वे तथ्यों की जांच कर सके और असत्य खबरों को तत्काल खारीज कर सके। राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से भी कहा गया है कि वे अपने-अपने स्तर पर ऐसी ही व्यवस्था करे।


उच्चतम न्यायालय ने एक रिट याचिका की सुनवाई करते हुए फेक न्यूज से उत्पन्न भगदड़ की स्थिति पर गंभीर चिंता व्यक्त की, जिससे बड़ी संख्या में प्रवासी मजदूरों की पलायन की समस्या पैदी हुई। अदालत ने महसूस किया कि इससे लोगों को काफी कष्ट उठाना पड़ा। अदालत ने कहा कि राहत शिविरों में रह रहे प्रवासी श्रमिकों को भोजन और दवाईयों जैसी बुनियादी सुविधायें सुनिश्चित की जानी चाहिए। गृह मंत्रालय ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से कहा है कि वे केंद्र के निर्देशों और आदेशों का पूरी तरह से पालन करे ताकि देश में कोविड-19 का फैलाव रोका जा सके।


-----

कोविड-19 से बचाव के लिए केन्द्र ने सभी राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों से कहा है कि राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन को पूरी तरह से लागू करवाएं। राज्यों के मुख्य सचिवों और केन्द्र शासित प्रदेशों के प्रशासकों को लिखे पत्र में गृह सचिव अजय भल्ला ने कहा है कि कुछ राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों में लॉकडाउऩ के तहत दी गई छूटों में अधिक रियायतें दी जा रही हैं। उऩ्होंने कहा कि यह कोविड-19 के फैलाव पर रोक लगाने के लिए केन्द्र सरकार द्वारा घोषित लॉकडाउन का उल्लंघन है।


-----

दूरसंचार विभाग और सी-डॉट ने दूरसंचार सेवा प्रदाताओं के सहयोग से एक ऐसा एप्लीकेशन विकसित किया है जो किसी कोरोना संक्रमित व्यक्ति के क्‍वारंटीन के स्थान से कहीं और जाने पर स्वत: ईमेल या एसएमएस भेज सकता है। इसे कोविड क्वारंटीन अलर्ट सिस्टम का नाम दिया गया है। इलेक्ट्रोनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने राज्य सरकारों की एजेंसियों से कहा है कि वे इस प्रणाली का इस्तेमाल करें। दूसंचार नेटवर्क आंकड़ों के आधार पर कोरोना वायरस के संभावित मामलों पर स्थान आधारित निगरानी के लिए मानक संचालन प्रक्रिया स्थापित की गई है।


-----

रक्षा मंत्रालय के पूर्व सैनिक कल्याण विभाग ने कोविड-19 विश्व महामारी के मद्देनजर राज्य और जिला प्रशासन की सहायता के लिए पूर्व सैनिकों की सेवाएं लेने की पहल की है। ये पूर्व सैनिक संक्रमित लोगों के संपर्कों का पता लगाने, सामुदायिक निगरानी क्वारन्टाइन सुविधाओं के प्रबंधन जैसे कार्यों में सहायता कर रहे हैं।


पंजाब में ऐसी ही एक संस्था गार्जियन ऑफ गवर्नेंस सक्रियता से इस कार्य में जुटी है। छत्तीसगढ़ सरकार ने भी पुलिस की सहायता के लिए कुछ पूर्व सैनिकों की नियुक्ति की है। आंध्र प्रदेश में सभी जिला कलेक्टरों ने पूर्व सैनिक स्वयंसेवियों की सेवाएं उपलब्ध कराने की मांग की है। उत्तर प्रदेश में सभी जिला सैनिक कल्याण अधिकारी, जिला नियंत्रण कक्षों के संपर्क में हैं। सेना की चिकित्सा कोर के सेवारत कर्मियों की पहचान की गई है और उन्हें तैयार रहने को कहा गया है। उत्तराखंड में सेना के आश्रय गृहों को आइसोलेशन और क्वारन्टाइन केन्द्र के रूप में तैयार किया जा रहा है। गोवा में एक नियंत्रण कक्ष बनाया गया है। इसमें स्थानीय प्रशासन की सहायता के लिए पूर्व सैनिकों को तैयार रहने को कहा गया है।


-----

कैबिनेट सचिव राजीव गाबा ने राज्‍यों को तबलीगी जमात में शामिल लोगों के संपर्क में आये व्‍यक्तियों का तेजी से पता लगाने को कहा है। उन्‍होंने कहा कि इस घटना से कोविड-19 महामारी का खतरा बढ़ गया है। सभी राज्‍यों के मुख्‍य सचिवों और पुलिस महानिदेशकों के साथ वीडियो कांफ्रेंस के जरिए उन्‍होंने राज्‍यों को जमात के लोगों के संपर्क में आये व्‍यक्तियों का पता लगाने की प्रक्रिया तेजी से पूरी करने को कहा है।


-----

देश में कोरोना वायरस संक्रमण के पॉजिटिव मामलों की संख्‍या बढ़ने पर केन्‍द्र सरकार ने राज्‍यों से संदिग्‍ध पीडितों की तलाश के लिए गहन अभियान चलाने का निर्देश दिया है। स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण मंत्रालय के संयुक्‍त सचिव लव अग्रवाल ने नई दिल्‍ली में बताया कि दिल्‍ली के निजामुद्दीन इलाके में तबलीगी जमात में हिस्‍सा लेने वालों की आवाजाही के कारण देश में कोरोना वायरस संक्रमण के पॉजिटिव मामलों की संख्‍या में वृद्धि हुई है। उन्‍होंने कहा कि एक हजार आठ सौ लोगों को विशेष निगरानी में रखा गया है। श्री अग्रवाल ने लोगों से लॉकडाउन के दौरान धार्मिक आयोजनों में न जाने की अपील की है।  


लॉकडाउन की परिस्थिति में हमारे जो इंस्‍ट्रेक्‍शन्‍स हैं, हमारी डायरेक्‍शन व‍हीं है कि किसी भी तरह का कांग्रिगेशन अवॉयड करना चाहिए, धार्मिक सभाओं को अवॉयड करना चाहिए। हम चाहते हैं कि सब लोगों की सुरक्षा के लिए सोशल डिस्‍टेंसिंग के जो मेजर्स है, जो उसके संबंधित डायरेक्‍शन हैं उनका हंडर्ड परसेंट अमल हो।


-----

गुजरात में, पुलिस ने तबलीगी जमात में शामिल 72 लोगों की पहचान की है। पुलिस महानिदेशक शिवानंद झा ने कहा कि इनमें से 71 लोगों को घर में क्‍वारंटीन किया गया है। उन्‍होंने पुष्टि की है कि भावनगर के 70 वर्षीय वृद्ध की 26 मार्च को मृत्‍यु हो गई है। ये व्‍यक्ति सम्‍मेलन से वापस आया था।


-----

राजस्‍थान में कोविड-19 संक्रमितों की संख्‍या बढकर 120 हो गई है। ब्‍यौरा हमारे संवाददाता से -


पिछले तीन दिन में राज्य में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या में तेजी से इजाफा हुआ है। जयपुर के रामगंज इलाके में पिछले तीन-चार दिनों में 34 लोग संक्रमित पाये गये। संक्रमित सभी व्यक्ति विदेश से लौटे एक व्यक्ति के संपर्क में आये, जिसे स्वास्थ्य विभाग द्वारा होम क्वारंटीन किया गया था। इसके वावजूद वह अन्य लोगों से मिलता रहा। पूरे परकोटे में कर्फ्यू जारी है। सरकार को 13 जिलों के 538 लोगों के तबलीगी जमात कार्यक्रम में शामिल होकर लौटने की सूचना मिली है। इनमें से तीन जिलों के 12 लोगों में पिछले दो दिनों में इस वायरस की पुष्टि हो चुकी है। गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव स्वरूप ने बताया कि ऐसे 450 लोगों को चिन्हित कर क्वारंटीन कर दिया गया है। विभिन्न एजेंसियां शेष बचे लोगों का पता लगाने में जुटी हैं। जितेन्द्र द्विवेदी, आकाशवाणी समाचार, जयपुर।


-----

झारखण्‍ड में भी कोविड-19 का पॉजिटिव मामला सामने आया है। ब्‍यौरा हमारी संवाददाता से --


लगभग साठ दिनों तक कोरोना नेगेटिव रहने के बाद झारखंड में मंगलवार को पहला कोरोना पॉजिटिव केस सामने आया है। गौरतलब है कि ये पहला मामला सामने आया है वो भी तबलीगी जमात में शामिल थी। कोरोना के पहला मामला सामने आने के बाद सरकार ने अभियान और तलाशी में काफी तेजी लाई है। बुधवार से ही करीब राज्यभर में दो सौ बारह संदिग्ध लोगों को पुलिस प्रशासन द्वारा पकड़ा गया है और इनको विभिन्न जगहों पर क्‍वारन्टीन कर दिया गया है। वहीं राज्य के कल्याण मंत्री हाजी हुसैन अंसारी के बेटे की भी मरकज में शामिल होने की पुष्टि की गई है। श्री अंसारी के पूरे परिवार को घर पर ही क्‍वारन्टीन किया गया है और उनके बेटे को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कर दिया गया है। राजधानी रांची में कोरोना की एक मरीज मिलने के बाद उपायुक्त राय महिमापत रे ने कल अधिकारियों के साथ बैठक कर सघन जांच अभियान चलाने का निर्देश दिया है। इसे लेकर आज रांची के हिन्दपीढ़ी इलाके में एक सौ टीम घर-घर जाकर स्वास्थ्य जांच करेगी। आकाशवाणी समाचार के लिए मैं रांची से शिल्पी।


-----

अरुणाचल प्रदेश के लोहित जिले में तेजू से कोविड-19 का पहला पॉजिटिव मामला सामने आया है। एक रिपोर्ट -


अरुणाचल प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री अलो लिबांग ने बताया है कि व्यक्ति दिल्ली में  निजामुद्दीन गया था। उन्होंने कहा कि मरीज को तेजू अस्पताल में आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है और 6 अन्य लोग, जो उस व्यक्ति के साथ मरकज गए थे, वे भी  सेल्फ क्वारंटाइन में हैं। मुख्यमंत्री पेमा खांडू ने एक ट्वीट में कहा कि फिलहाल उस व्यक्ति में कोविड-19 का कोई लक्षण नहीं है और स्वास्थ्य स्थिर है। राकेश डोले, आकाशवाणी समाचार, ईटानगर।


-----

महाराष्ट्र में मुंबई कोरोना वायरस के संक्रमण का केंद्र बन गया है। ब्‍यौरा हमारे संवाददाता से


मुंबई मे दो दिन पहले वरली कोलीवाडा मे कोरोना पॉजिटिव मरीजो की आशंका के चलते पुरा कोलीवाडा सील करने के बाद कल धारावी मे एक कोरोना मरीज की मौत के कारण अब शहर की घनी आबादी वाले क्षेत्रों में महामारी तेजी से फैलने का डर है। इसके चलते मुंबई महानगर निगम और कडे़ उपाय कर रहा है। शहर के 227 प्रभागों मे घर घर जाकर कोरोना की टेस्ट कराने के लिये महानगर निगम के फ्लाईंग स्क्वाड तैनात किये गये है। वही वरली कोलीवाडा को दूषित क्षेत्र घोषित करके पूरा इलाका सील किया गया है। इसी तरह धारावी मे कोरोना से मरने वाले मरीज का घर जिस सोसायटी मे था उस सोसायटी की सभी इमारतों को सील किया गया है और वहां की लोगों की आवाजाही पूरी तरह से बंद की गयी है। शैलेश पाटील आकाशवाणी समाचार, मुंबई।


-----

आंध्र प्रदेश में आज कोविड-19 के 21 नये रोगियों का पता चला जिससे राज्य में संक्रमित व्यक्तियों की संख्या 132 हो गई है।


-----

जम्मू-कश्मीर में नौ और रोगियों में कोविड-19 के संक्रमण की पुष्टि हुई है। इससे वहां कोविड-19 के मरीजों की संख्या 64 हो गई है।


-----

गुजरात में आज कोरोना वायरस से एक व्‍‍यक्ति की मौत हो गई।


-----

गुरबानी के भजनों के जाने माने गायक निर्मल सिंह खालसा का आज सवेरे अमृतसर में कोरोना वायरस के कारण मृत्यु हो गई। कोरोना वायरस से पंजाब में यह पांचवी मृत्यु है जबकि अमृतसर में मौत का यह पहला मामला है। उन्हें कल कोविड-19 से संक्रमित पाया गया था।


-----

कोविड-19 महामारी से बचाव की दिशा में सरकार और समाज के एकजुट प्रयासों से अच्‍छी खबरें भी आ रही हैं।


-----

राजस्‍थान में कोरोना संक्रमित कई मरीज इलाज के बाद नेगेटिव पाये गए हैं। ये लोग अपने अनुभव साझा कर रहे हैं। इनमें से जोधपुर के एक मरीज महेश उत्तम चन्दानी से आकाशवाणी ने बातचीत की। महेश उत्तम चन्दानी 17 मार्च को तुर्की से अपने परिजनों के साथ लौटे थे और इनमें, इनकी पत्नी में तथा भतीजे में कोरोना की पुष्टि हुई थी।


पाताल प्रवास के दौरान कम से कम 40 से 50 फीसद मैंने गर्म पानी पिया होगा और ये एक बहुत बड़ी औषधि के रूप में साबित हुआ है और मैं समस्‍त लोगों से निवेदन करूंगा कि सरकारी नियमों और सोशल डिस्‍टेनिंग का पालन करें और बचे रहें। और आज मैं प्रसन्‍न हूं कि रामनवमी के दिन मुझे यह शुभ समाचार मिला कि हम तीनों नेगेटिव रिपोर्ट आई है और हम स्‍वस्‍थ हैं प्रसन्‍नचित हैं। 


-----

बिहार से भी एक सकारात्‍मक खबर है। कोविड-19 संक्रमण से ठीक हुई पटना की अनिताह विनोद ने लोगों को इस प्रकोप से बचने के लिए घर में ही रहने की सलाह दी है।


मार्च 20 तारीख को मेरा एम्‍स पटना में जांच हुआ था और रिजल्‍ट 22 को आया कि मैं पाजिटीव हूं और पाजिटीव होने के बाद तुरंत उन्‍होंने मुझे आइसोलेशन वार्ड में रखा था। 11 दिन के बाद मैं दो नेगेटिव रिजल्‍ट आने के बाद उधर से डिस्‍चार्ज हुई हूं और मेरा बेटा इटली से आया था, मार्च पांच को उनका भी टेस्‍ट किया गया मेरा पति और दोनों बेटे का किया था नेगेटिव आया है और मेरे को अभी घर में 14 दिन का क्‍वारेंटीन के लिए बोला है मैं घर के अंदर ही बैठूंगी और समाज से मुझे यह बोलना है कि जो सूचनायें हमारी सरकार ने हमको दिया है पूर्ण उसका पालन कीजिएगा और जितना हो सके बाहर न निकलें।


-----

राज्‍य में कोविड-19 से संक्रमित 3 व्‍यक्ति पूरी तरह ठीक हो गये हैं। हालांकि पॉजिटिव मामलों की संख्‍या 24 हो गई है। इनमें से 12 लोग विदेशों से आये थे। 11 लोग मुंगेर के एक व्‍यक्ति के संपर्क में आये थे, जिसकी कोरोना वायरस से मौत हो गई। जबकि एक व्‍यक्ति गुजरात से लौटा था। छह हजार से अधिक संदिग्‍ध लोगों की निगरानी की जा रही है। इनमें से तीन हजार 105 लोग सिवान जिले में हैं।


-----

मध्‍य प्रदेश में इंदौर को छोडकर राज्‍य के दूसरे स्‍थानों में कोरोना मरीजों की स्थिति में सुधार हुआ है। मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज भोपाल में कोरोना संकट की स्थिति और व्‍यवस्‍थाओं की समीक्षा की। राज्‍य में कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्‍या 98 हो गई है। सबसे अधिक संख्‍या में मरीज इंदौर में हैं।


तबलीगी जमात में शामिल प्रदेश के 107 नागरिकों में से 67 नागरिक क्वॉरेंटाइन किए जा चुके हैं। शेष 40 जमातियों के बारे में  पता लगाया जा रहा है। इसके साथ ही, भोपाल और प्रदेश के अन्य जिलों में विदेशों से आए करीब 50 नागरिक भी क्वॉरेंटाइन के लिए भेजे जा रहे हैं। उधर, कोविड-19 के मरीजों और संक्रमण से प्रभावित व्यक्तियों की देखभाल के लिए सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखते हुए स्टॉफ नर्सों को लगातार एप के जरिये प्रशिक्षण दिया जा रहा है। स्वास्थ्य प्रमुख सचिव संजय दुबे ने बताया कि प्रदेश में टेलीमेडिसिन के माध्यम से भी सामान्य रोगों के इलाज की व्यवस्था की जा रही है। इस बीच, राज्य में स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के दुर्व्यवहार की कुछ अप्रिय घटनाएं भी सामने आई हैं। इंदौर में कल स्थानीय लोगों की भीड़ ने संक्रमण की जांच के लिए गए स्वास्थ्य कर्मियों पर हमला किया। हमले में दो महिला डॉक्टर घायल हो गईं। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। संजीव शर्मा, आकाशवाणी समाचार, भोपाल।


-----

असम सरकार ने लोगों से कोविड-19 के खिलाफ संघर्ष में योगदान करने की अपील की है। राज्‍य सरकार ने कोविड-19 सहित विभिन्‍न गंभीर बीमारियों से पीडित गरीब और जरूरतमंद लोगों के लिए वित्‍तीय सहायता और चिकित्‍सा राहत मुहैया कराने के लिए असम आरोग्‍य निधि न्‍यास का गठन किया है। कोई भी व्‍यक्ति या संगठन स्‍टेट बैंक खाता संख्‍या 3 2 1 2 4 8 1 0 1 0 1 में असम आरोग्‍य निधि के नाम से अंशदान जमा कर सकता है।


-----

देश में कोविड-19 से संक्रमण के एक हजार नौ सौ 65 मरीजों की पुष्टि की है। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने बताया कि एक सौ 51 लोग ठीक हो चुके हैं। देश में अब तक इस संक्रमण से 50 लोगों की मृत्यु हो चुकी है। भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद ने नोवल कोरोना वायरस की जांच के लिए एक सौ 26 सरकारी और 52 निजी प्रयोगशालाओं को मंजूरी दी है। परिषद के प्रमुख वैज्ञानिक रमन आर. गंगाखेडकर ने कल बताया कि अब तक लगभग 48 हजार जांच की जा चुकी हैं।


-----

गृह मंत्रालय में संयुक्‍त सचिव पुण्‍य सलिला श्रीवास्‍तव ने कहा है कि राज्‍यों और केन्‍द्रशासित प्रदेशों ने लोगों को जरूरी वस्‍तुएं उपलब्‍ध कराने के प्रयास किये हैं।


माइग्रेंट वर्कस के लिए स्‍टेट्स और यूटीज फूड और शेल्‍टर की व्‍यवस्‍था कर रही है। अपडे‍टेड फिगर के अनुसार 21 हजार 486 रिलीफ कैंप सेटअप हुए हैं, जिसमें 6 लाख 75 हजार 193 पर्सन्‍स को शेल्‍टर दिया जा रहा है और लगभग 25 लाख लोगों को मील्‍स दिए गए है।


-----

कोविड-19 प्रकोप के मद्देनजर केन्‍द्र सरकार ने आवश्‍यक वस्‍तुओं की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए कई कदम उठाये हैं ताकि लोग किसी भी तरह की परेशानी का सामना न करें। सरकार ने भरोसा दिलाया है कि कोविड-19 से निपटने के लिए दवाइयों की कोई कमी नहीं है। एक रिपोर्ट---


फार्मास्‍युटिकल विभाग अन्‍य विभागों, राज्‍यों और केन्‍द्र शासित प्रदेशों की मदद से दवाओं की उपलब्‍धता आपूर्ति वितरण का निरंतर निगरानी कर रहा है। चीन में कोरोना वायरस के प्रकोप के बाद से ही सरकार दवाओं के उत्‍पादन की निगरानी कर रही है। लोगों के सवालों और शिकायतों से संबंधित मुद्दों से निपटने के लिए एक केन्‍द्र नियंत्रण कक्ष स्‍थापित किया गया है। लॉकडाउन की अवधि के दौरान दवाओं और चिकित्‍सा उपकरणों के उत्‍पादन सुनिश्चित करने के लिए सभी प्रयास किये जा रहे है। दवा निर्माताओं को आवश्‍यक दवाओं के पर्याप्‍त भंडारण बनाये रखने के लिए निर्देश दिये गये है। एक अप्रैल से सभी चिकित्‍सा उपकरणों को दवाई के रूप में अधिसूचित किया गया है। सभी चिकित्‍सा उपकरणों की अधिकतम खुदरा कीमत की निगरानी अब सरकार द्वारा की जाएगी। सुपर्णा सैकिया के साथ अनुपम मिश्र, आकाशवाणी समाचार, दिल्‍ली।


-----

तमिलनाडु में सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत कोविड-19 राहत पैकेज का वितरण आज से शुरू हो गया है। इसके तहत एक हजार रुपये नकद और निशुल्क चावल, दाल तथा खाना पकाने का तेल दिया जा रहा है। राज्य सरकार ने कहा है कि राशन की दुकानों के सामने भीड़भाड़ कम करने के लिए टोकन प्रणाली लागू की जाएगी।


-----

गुजरात सरकार ने कोरोना वायरस के मद्देनजर असंगठित  और निर्माण क्षेत्र के श्रमिकों के लिए 650 करोड रुपये के पैकेज की घोषणा की है। मुख्‍यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा कि इस पैकेज से करीब 65 लाख असंगठित और निर्माण क्षेत्र के श्रमिकों को लाभ पहुंचेगा। उन्‍होंने कहा कि सरकार प्रत्‍यक्ष लाभांतरण के जरिए 65 लाख कामगारों के बैंक खाते में एक-एक हजार रुपये की राशि डालेगी।


-----

मिजोरम में मौजूदा लॉकडाउन को सुचारू रूप से लागू कराने तथा घरों में ही ठहरे लोगों को आवश्‍यक वस्‍तुओं की आपूर्ति जारी रखने के लिए सबसे बडे गैर-सरकारी संगठन वाई एम ए से जुडे हजारों स्‍वयंसेवी आगे आ रहे हैं। अनेक लोग मुख्‍यमंत्री राहत कोष में अंशदान देने तथा स्‍थानीय कार्यबल के लिए भी आगे आ रहे हैं।


-----

देशभर में नोवेल कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने महामारी फैलने से रोकने के लिए कई परामर्श जारी किए हैं। एक रिपोर्ट -


सरकार ने कहा है कि आवश्‍यक वस्‍तुओं की पर्याप्‍त आपूर्ति जारी है और लोगों को चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है। लोगों को सलाह दी जाती है कि वे आवश्‍यक वस्‍तुओं और चिकित्‍सा के सामान की खरीदारी करते समय धैर्य रखें और शांत रहें। आवश्‍यक वस्‍तुओं को खरीदने के लिए बार-बार बाहर निकलने से बचें। साथ ही लोगों को हाथ मिलाने और गले लगने से भी बचना चाहिए। बाजार, मेडिकल स्‍टोर और अस्‍पतालों में लोग कम से कम एक मीटर की दूरी रखें। घर पर गैर जरूरी सामाजिक समारोह से बचा जाना चाहिए और घर पर मेहमानों को नहीं बुलाना चाहिए और लोगों को अपनी आंख, नाक और मुंह को छूने से बचना चाहिए और लगातार हाथ साफ करते रहना चाहिए। हाथ को दोनों तरफ से कम से कम 20 सेकेण्‍ड तक धोना चाहिए। यदि कोई व्‍यक्ति खांसी या बुखार से पीडि़त है तो वह दूसरों के संपर्क में आने से बचे और डॉक्‍टर से तुरंत परामर्श ले। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने कोरोना वायरस के बारे में जानकारी के लिए एक टॉल फ्री नम्‍बर-1075 जारी किया है।


-----

विश्व स्वास्थ्य संगठन के प्रमुख ट्रेडोस अधानोम ग्रेब्रेयेसस ने कोविड-19 संकट के दौरान देश के कमजोर तबकों की सहायता के लिए 24 बिलियन डॉलर के पैकेज की घोषणा के लिए भारत सरकार और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सराहना की है। उन्होंने कल संवाददाता सम्मेलन में कहा है कि प्रधानमंत्री मोदी द्वारा घोषित इस पैकेज में वंचित वर्गों के लिए निशुल्क राशन, गरीब महिलाओं को 20 करोड़ 40 लाख रुपये नकद सहायता और आठ सौ परिवारों को अगले तीन महीने तक निशुल्क रसोई गैस उपलब्ध कराना शामिल है।


संगठन के प्रमुख ने यह भी कहा है कि कई विकासशील देशों को इस प्रकार के कल्याणकारी कार्यक्रमों को लागू करने के लिए काफी संघर्ष करना होगा। उन्होंने कहा कि ऐसे देशों के लिए ऋण राहत बहुत जरूरी है, ताकि वे अपने देशवासियों का ध्यान रख सकें और आर्थिक मंदी से बच सकें। उन्होंने विश्व बैंक और अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष से भी कहा है कि वह विकासशील देशों को ऋण में राहत दें।


-----

आकाशवाणी का समाचार सेवा प्रभाग एक्‍सपर्ट स्‍पीक कार्यक्रम में कोविड-19 महामारी के बारे में विशेषज्ञ डॉक्‍टरों की राय प्रसारित करता है। इस श्रृंखला में नई दिल्‍ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान एम्‍स के माइक्रोबाइलोजी विभाग प्रमुख डॉक्‍टर पारूल सिंह ने लोगों को सलाह दी है कि वे मास्‍क का दुरूपयोग करने से बचें और लक्षण होने पर सामान्‍य सर्जिकल मास्‍क का उपयोग किया जा सकता है।


नई दिल्‍ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान के संचारी रोग विशेषज्ञ डॉक्‍टर अंकेश गुप्‍ता ने बताया कि विदेश से आने वाले लोगों को दो सप्‍ताह तक क्‍वारंटीन में रहने की जरूरत है। 


एक्‍सपर्ट स्‍पीक कार्यक्रम में भाग लेने वाले अन्‍य विशेषज्ञों की राय जानने के लिए सुनें, हमारा अगला बुलेटिन।


-----

आकाशवाणी के समाचार सेवा प्रभाग ने आज से हिन्‍दी और अंग्रेजी के अपने सभी 5-5 मिनट वाले बुलेटिनों का समय बढाकर 10 मिनट कर दिया है। उर्दू बुलेटिन सुबह नौ बजे और रात नौ बजे प्रसारित किए जायेंगे।


-----

देशभर में लोग लॉकडाउन के दौरान अपने घरों में रहने के लिए सरकार की अपील का पालन कर रहे हैं। कोविड-19 की मौजूदा स्थिति से निपटने के लिए लोग अपने घर के काम निपटाने, घर के अंदर ही खेलने, पुस्‍तक पढने, बागबानी करने और अपनी पसंदीदा रूचि जैसी गतिविधियों में खुद को व्‍यस्‍त रखे हुए हैं। हमने कुछ लोगों से बातचीत की कि वे लॉकडाउन के दौरान अपने समय का कैसे सदुपयोग कर रहे हैं।


बाइट-  मेरा नाम जुगल जोशी है। मैं दिल्‍ली के रघुनगर इलाके में रहता हूं। अभी मेरा ऑफिस नोएडा में है। बट ड्यू टू लॉकडाउन वर्क फ्रॉम होम चल रहा है एंड इस लॉकडाउन में एक जो अच्‍छी चीज हुई है हमारे साथ वो ये हुई है कि फैमिली के साथ टाइम स्‍पेंड करने का मौका मिल रहा है एंड अपनी हेल्‍थ के ऊपर काम करने का मौका मिल रहा है। साइड बाय साइड ऑफिशियल वर्क है, वो भी चल रहा है।


बाइट-  मेरा नाम अनिता अधिकारी है। मैं रांची से हूं। मैं इस लॉकडाउन का पूरी निष्‍ठा से पालन कर रही हूं। एक जिम्‍मेदार नागरिक की तरह, क्‍योंकि यही सही है इस संकट की घडी में, मेरे और मेरी फैमिली के लिए भी और कुछ हद तक अपने देश के लिए। इस लॉकडाउन के समय में मैं अपने परिवार के साथ ही पूरा समय बीता रही हूं, टीवी वगैरह देखकर, काम करके।


बाइट-मैं राजन शर्मा जम्‍मू से, जैसा कि आप सभी जानते है कि लॉकडाउन की सिच्‍युएशन पूरे वर्ल्‍ड में इस समय बनी हुई है। सो मैं भी सभी को यही मैसेज देना चाहूंगा कि आप सभी को इस टाइम पर जितना हो सके अपने-अपने घरों पर रहना चाहिए। सो मैं अभी इन दिनों अपना म्‍युजिक पर भी कॉन्‍सनट्रेट कर रहा हूं, थोडा फोकस कर रहा हूं अपनी स्‍टडिज पर भी। आई हेव इनफ टाइम कि मैं इन सब चीजों में अपना ध्‍यान दे पाऊं और मैं अपनी फैमिली को भी टाइम दे पा रहा हूं, जिसकी कि हम सभी को बहुत जरूरत है।


-----

महाराष्ट्र के पुणे जिले में बारामती की एक अदालत ने लॉकडाउन का उल्लंघन करने के लिए तीन लोगों को तीन-तीन दिन की जेल की सज़ा सुनाई है। इऩसे कहा गया है कि वे तीन-तीन दिन कैद की सज़ा भुगतें या पांच-पांच सौ रुपये जुर्माना दें। पुणे पुलिस ने लॉकडाउन के उल्लंघन के लिए ढ़ाई सौ से अधिक लोगों पर मामला दर्ज किया है।


-----

कोरोना की इस जंग में फिल्‍म अभिनेत्री सोनाली बेंद्रे और अभिनेता अभिषेक बच्‍चन ने अपने संदेशों के माध्यम से लोगों को इस महामारी से लड़ने के लिए हौसला दे रहे हैं।


दोस्‍तो, मुश्किल कभी बताकर नहीं आती है और न ही उससे भागा जा सकता है। आज हमारे सामने मुश्किल है और हमें उसका सामना करना है। इसका सामना हम कर सकते हैं घर पर रहकर। अगर हमारा काम जरूरी न हो तो प्‍लीज घर से बाहर न निकलें। हम खुद की जान ही नहीं दूसरे की जान भी खतरे में डाल सकते हैं। जिन लोगों के पास आप्‍शन नहीं है जिनका घर से बाहर निकला जरूरी है जैसे पुलिसवाले, डाक्‍टर, नर्सिंस, सेनिटेशन वर्क्‍स उनका काम और न बढ़़ायें उनका काम और मुश्किल न करें उनको मदद करें घर पर रहकर। इसीलिए प्‍लीज स्‍टे होम स्‍टे सेफ।


-----

सुप्रसिद्ध संगीतकार ए आर रहमान ने नोवेल कोरोना का बहादुरी से मुकाबला कर रहे चिकित्सकों और सभी पैरामेडिकल स्टाफ का आभार व्यक्त किया है। एक ट्वीट में उन्होंने कहा कि महामारी से निपटने के लिए डॉक्टरों की तत्परता प्रभावित करती हैं। उन्होंने कहा लोगों को सरकार की सलाह माननी चाहिए और कुछ हफ्तों के लिए अलग रह कर अपना जीवन सुरक्षित बनाना चाहिए।


-----

वर्षा से प्रभावित सीमित ओवरों के क्रिकेट मैचों के नतीजे के लिए इस्‍तेमाल होने वाले डकवर्थ-लुईस पद्धति के सूत्रधार टोनी लुईस का 78 वर्ष की आयु में निधन हो गया है। इंग्‍लैंड और वेल्‍स क्रिकेट बोर्ड ने कल इसकी घोषणा की।


टोनी लुईस ने अपने गणितज्ञ साथी फ्रेंक डकवर्थ के साथ मिलकर वर्ष 1997 में डकवर्थ लुईस पद्धति का प्रतिपादन किया। अंतर्राष्‍ट्रीय क्रिकेट परिषद-आईसीसी ने वर्ष 1999 में इसे आधिकारिक स्‍वीकृति दी।


गणित पर आधारित इस पद्धति का इस्‍तेमाल वर्षा से खेल बाधित होने पर सीमित ओवरों के अंतर्राष्‍ट्रीय क्रिकेट मैचों में किया जाता है।


-----

राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद, उप-राष्‍ट्रपति एम वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेन्‍द मोदी और सूचना तथा प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने रामनवमी के पावन पर्व पर लोगों को बधाई दी है। एक ट्वीट में राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा है कि भगवान राम का आदर्श जीवन हमें सदगुण, सहिष्‍णुता, उत्‍साह और मित्रता का संदेश देता है।


उप-राष्‍ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने कहा कि यह पर्व हमारे सभी नागरिकों के जीवन में स्‍वास्‍थ्‍य, खुशी, शांति और समृद्धि लाये तथा मौजूदा स्‍वास्‍थ्‍य चुनौतियों का मिलकर मुकाबला करने की क्षमता प्रदान करे।


प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने भी ट्वीट कर रामनवमी के अवसर पर सभी को हार्दिक शुभकामनाएं दी हैं।


सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने कहा है कि श्रीराम एक ऐसे आदर्श पुरुष थे जिन्‍होंने हमें जीने की राह दिखाई।


-----

Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 25 (May) Midday News 25 (May) News at Nine 25 (May) Hourly 26 (May) (0605hrs)
समाचार प्रभात 26 (May) दोपहर समाचार 25 (May) समाचार संध्या 25 (May) प्रति घंटा समाचार 26 (May) (0600hrs)
Khabarnama (Mor) 25 (May) Khabrein(Day) 25 (May) Khabrein(Eve) 25 (May)
Aaj Savere 26 (May) Parikrama 25 (May)

Listen Programs

Market Mantra 25 (May) Samayki 25 (May) Sports Scan 23 (Mar) Spotlight/News Analysis 25 (May) Samachar Darshan 22 (Mar) Radio Newsreel 21 (Mar)
    Public Speak

    Country wide 12 (Mar) Surkhiyon Mein 10 (May) Charcha Ka Vishai Ha 11 (Mar) Vaad-Samvaad 17 (Mar) Money Talk 17 (Mar) Current Affairs 6 (Mar)
  • Money Matters 22 (Mar)
  • International News 22 (Mar)
  • Press Review 23 (Mar)
  • From the States 23 (Mar)
  • Let's Connect 22 (Mar)
  • 360°- Ek Parivesh 23 (Mar)
  • Know Your Constitution 30 (Jan)
  • Ek Bharat Shreshta Bharat 22 (Mar)
  • Sanskriti Darshan 23 (Mar)
  • Fit India New India 23 (Mar)
  • Weather Report 21 (Mar)
  • North East Diaries 22 (Mar)
  • 150 Years of Bapu 22 (Mar)
  • Sector Specific Discussions 22 (Mar)