A- A A+
Last Updated : Apr 3 2020 7:31AM     Screen Reader Access
News Highlights
PM Modi to share a video message with people at 9 AM tomorrow            Prime Minister interacts with all Chief Ministers to discuss ways to check spread of COVID-19            Home Ministry blacklists 960 foreigners involved in Tablighi activities who came on tourist visa            Govt launches 'AarogyaSetu' mobile app to asses and people on COVID-19            Govt asks states to strictly implement lockdown measures in letter and spirit           

Text Bulletins Details


दोपहर समाचार

1415 HRS
21.02.2020

मुख्य समाचार

  • श्‍यामा प्रसाद मुखर्जी राष्‍ट्रीय ररबन मिशन के तहत लगभग तीन सौ ग्रामीण क्‍लस्‍टर विकसित किये जा रहे हैं। इसका उद्देश्‍य इन क्षेत्रों में आर्थिक गतिविधियों, कौशल विकास और बुनियादी सुविधाओं को बढावा देना है।

  • राष्‍ट्रपति डॉनल्‍ड ट्रंप ने कहा-वे प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी को पसन्‍द करते हैं और अपनी आगामी यात्रा के दौरान उनके साथ विस्‍तृत बातचीत करेंगे।

  • केन्‍द्र ने मद्रास उच्‍च न्‍यायालय से कहा- राजीव गांधी हत्‍या मामले के अभियुक्‍तों को बिना केन्‍द्र सरकार की राय लिये  रिहा नहीं किया जा सकता।

  • वैश्विक वित्‍तीय कार्रवाई बल-एफएटीएफ पेरिस में होने वाली बैठक में पाकिस्‍तान को ग्रे सूची में रखने के मामले में अंतिम फैसला करेगा।

  • ईरान में संसदीय चुनाव के लिए मतदान जारी।

  • और खेलों में, टी-ट्वेंटी महिला विश्‍व कप के उद्घाटन मैच में भारत ने ऑस्‍ट्रेलिया के साथ खेलते हुए 10वें ओवर में 3 विकेट पर 61 रन बनाए।

  • वेलिंग्‍टन में न्‍यूजीलैंड के साथ पहले क्रिकेट टेस्‍ट मैच के पहले दिन भारतीय टीम पांच विकेट पर 122 रन बना सकी। आंधी और बारिश के कारण मैच रोका गया।

-----

श्‍यामा प्रसाद मुखर्जी रर्बन मिशन यानी ग्राम शहरीकरण अभियान आज चार वर्ष पूरे कर रहा है। प्रधानमंत्री ने इस मिशन का शुभारंभ 21 फरवरी, 2016 को छत्‍तीसगढ़ के राजनाथगांव जिले में किया था। इसका उद्देश्‍य राज्‍यों और केन्‍द्रशासित प्रदेशों में ऐसे ग्राम समूहों को विकसित करना है जिनसे समूचे क्षेत्र में चंहुमुखी विकास का रास्‍ता खुलेगा। उद्धाटन समारोह के दौरान प्रधानमंत्री ने जोर देकर कहा था कि इस मिशन का शुभारम्‍भ देश के गांवों को स्‍मार्ट गांव बनाने के लिए किया गया है।


ये जो ररबन मिशन है ना, वही स्‍मॉर्ट विलेज है। ये बात सही है बूढ़े मां-बाप गांव में रहते हैं, नौजवान शहरों में चले जाते हैं, उनको एक अच्‍छी जिंदगी जीनी है। जहां अच्‍छी शिक्षा हो, अच्‍छे अस्‍पताल हो, बिजली आती हो, इंटरनेट चलता हो, ये उसके मन में रहता है और इसलिए वह शहर की ओर चल पड़ता है।


श्‍यामा प्रसाद मुखर्जी नेशनल रर्बन मिशन के तहत करीब तीन सौ ग्रामीण क्‍लस्‍टर विकसित किए जा रहे हैं। ग्रामीण विकास सचिव राजेश भूषण ने आकाशवाणी से खास बातचीत में इस मिशन के उद्देश्‍यों के बारे में बताया।


भारत की लगभग 68 प्रतिशत आबादी ग्रामीण क्षेत्रों में बसती है। ग्रामीण क्षेत्रों को आर्थिक, सामाजिक और वास्‍तविक रूप से सुदृढ़ क्षेत्र बनाने के लिए उनके इन्‍फ्रास्‍ट्रक्‍चर में विकास करने के लिए और वहां आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए सितंबर, 2015 में पहले यह संकल्‍पना की गई थी और उसके बाद 2016 में फरवरी में औपचारिक रूप से श्‍यामा प्रसाद मुखर्जी ररबन मिशन प्रारंभ किया गया। देश भर में 300 ऐसे ररबन क्‍लस्‍टर्स विकसित किए जा रहे हैं, जिनमें आत्‍मा गांव की होगी और सुविधाएं शहर की होंगी। 


झारखंड में इस मिशन के तहत तीसरे चरण में कुल 15 क्लस्टर का चयन किया गया है। इनमें टंडवा प्रखंड का सराढू क्लस्टर भी शामिल है। इसके तहत टंडवा, साराढू, गाड़ीलौंग, कबरा-कोयद और कसियाडीह पंचायत क्षेत्र आते हैं। हमारी संवाददाता ने बताया है कि केन्‍द्र सरकार ने जिला प्रशासन के समेकित क्लस्टर कार्य योजनाओ को मंजूरी दे दी है।


टंडवा कोयलांचल क्षेत्र के सराढू क्लस्टर के अंतर्गत आने वाले छह पंचायतों के 28 गांवो में शहरी सुख-सुविधाओं के साथ-साथ सभी को रोजगार के साधन भी मिलेंगे। जिला प्रशासन ने कुल 31 प्रस्ताव राज्य सरकार के पास भेजे थे, जिनमें से 11 प्रस्तावों पर सरकार ने अपनी स्वीकृति प्रदान कर दी है। इन गांवों में करीब 1 अरब 2 करोड़ रुपए खर्च करने की योजना है, जिसमें से अब तक 19 करोड़ रुपए खर्च किए जा चुके हैं। चतरा जिलें के उपायुक्त जितेंद्र कुमार सिंह ने ररबर्न मिशन के चतुर्थ वर्षगांठ के अवसर पर मिशन के उद्देश्‍य का जिक्र करते हुए कहा है कि प्रथम चरण में 300 ऐसे गांवों का क्लस्टर स्थापित करना है, जिसमें शहरी सुविधाओं का समावेश ग्रामीण जन-जीवन के मूल स्वरूप को बनाए रखते हुए ररबर्न क्लस्टर के रूप में विकसित करना है।


इसमें जो अलग-अलग स्‍कीम्‍स हैं, जो ली गई हैं, जिसमें 100 मैन्‍युफैक्‍चरिंग यूनिट है। इसके अलावा हमारी अगरबत्‍ती मैन्‍युफैक्‍चरिंग यूनिट है और टेलरिंग यूनिट है, तो इस तरह की सारी योजनाएं ली गई हैं, जिससे लोगों की इनकम भी बढ़े और प्‍लस इसके अलावा जो हम बाकी स्‍कीम्‍स के साथ कन्‍वर्जेंस करके, जो वहां पे इम्‍पलीमेंट्स कर रहे हैं, जैसे सोलर स्‍ट्रीट लाइट कर रहे हैं, प्‍लस सीसी सीरप बना रहे हैं, पुलिया बना रहे हैं, छोटी स्‍मॉल स्किल इंडस्‍ट्रीज का भी इसमें हम लोगों ने डीपीआर बनाई है। आकाशवाणी समाचार के लिए अशोक तुल्सियान के साथ मैं रांची से शिल्‍पी। 


-----

अमरीका के राष्‍ट्रपति डॉनल्‍ड ट्रंप की अगले सप्‍ताह भारत यात्रा से संबंधित समाचार-


अमरीकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने कहा है कि वे वास्‍तव में प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी को पसंद करते हैं। उन्‍होंने कहा कि वे अपनी भारत यात्रा के दौरान उनसे व्‍यापार के बारे में बातचीत करेंगे। श्री ट्रंप ने यह बात कल कोलोराडो में एक रैली को संबोधित करते हुए कही। दोनों नेताओं के बीच रक्षा, सुरक्षा और व्‍यापार सहित विभिन्‍न द्विपक्षीय मुद्दों पर चर्चा होने की आशा है।


भारत और अमरीका के बीच वस्‍तुओं और सेवाओं का आपसी व्‍यापार, विश्‍व के साथ अमरीका के व्‍यापार का लगभग तीन प्रतिशत है।


मौजूदा समय में भारत और अमरीका के बीच सर्वाधिक प्रभावशाली संबंध हैं। दोनों देशों के बीच महत्‍वपूर्ण भागीदारी है जो एकसमान मूल्‍यों पर आधारित है।  


-----

केन्द्र ने मद्रास उच्च न्यायालय में अपना रूख स्पष्ट करते हुए कहा है राजीव गांधी हत्या मामले के दोषियों को बिना उसकी अनुमति के रिहा नहीं किया जा सकता। कल मद्रास उच्च न्यायालय में इस मामले की दोषी नलिनी ने राज्य मंत्रिमंडल की सिफारिश के अनुसार अपनी जल्द रिहाई की मांग की थी। अपर महाधिवक्ता श्री जी राजगोपालन ने कहा कि केन्द्र की मंजूरी के बिना राज्य मंत्रिमंडल की सिफारिश के कोई मायने नहीं है। उन्होंने दोषियों द्वारा दायर पहले के एक मामले में शीर्ष न्यायालय का हवाला दिया जिसमें कहा गया है कि इन दोषियों की रिहाई के लिए केन्द्र की मंजूरी जरूरी है क्योंकि केन्द्रीय जांच एजेंसी सीबीआई ने इस मामले की जांच की थी।


इस बीच, नलिनी के वकील ने दलील दी कि दोषियों की रिहाई के लिए सितम्बर 2018 में राज्य मंत्रिपरिषद द्वारा पारित प्रस्ताव पर राज्यपाल को कार्रवाई करनी ही है। इस पर अपर महाधिवक्ता ने कहा कि मंत्रिपरिषद का प्रस्ताव राज्यपाल को भेजी गई केवल एक सिफारिश है।


-----

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि सशस्त्र बलों के शौर्य और बलिदान से ही राष्ट्र मजबूत हुआ है। वह आज दिल्ली छावनी में थलसेना भवन की आधारशिला रखने के अवसर पर बोल रहे थे।


सारी दुनिया भी यह मानती है कि भारत अब कमजोर भारत नहीं रहा है, बल्कि भारत अब दुनिया के ताकतवार देशों की कतार में आकर खड़ा हो गया है। इसका श्रेय यदि किसी को जाता है, तो आप जैसे बहादुर जवानों को जाता है और इसका श्रेय उन बहादुर जवानों को जाता है, जिन्‍होंने भारत को एक सशक्‍त भारत बनाने के लिए अपना बलिदान दिया। 


29 एकड़ भूमि में फैला नया सेना मुख्यालय मानेकशा सेंटर के निकट बनाया जायेगा। बहुमंजिले सेना मुख्यालय में करीब छह हजार सैन्यकर्मियों के रहने की व्यवस्था होगी और इसी परिसर में सेना के सभी कार्यालय भी होंगे।


इस अवसर पर रक्षामंत्री ने कहा कि देश के लिए अपने प्राण न्यौछावर करने वाले वीर जवानों के बलिदान के प्रतीक के रूप में इस भवन का निर्माण किया जायेगा।


-----

थल सेना प्रमुख जनरल मनोज नरवणे ने कहा है कि सेना महिला और पुरुषों के बीच समानता का सम्‍मान करती है। जनरल नरवणे ने कहा कि महिलाओं को स्‍थायी कमीशन देने के उच्‍चतम न्‍यायालय के आदेश से इस दिशा में आगे बढ़ने का रास्‍ता साफ होगा। नई दिल्‍ली में उन्‍होंने कहा कि भारतीय सेना में किसी सैनिक के साथ धर्म, जाति और लिंग को लेकर भेदभाव नहीं किया जाता।


-----

ईरान में, संसदीय चुनावों के लिए मतदान जारी है। सरकारी टेलीविजन के अनुसार इस्लामी गणतंत्र के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खामेनेई ने तेहरान में मतदान किया। मतदान करने के बाद खामेनेई ने सभी ईरानियों से वोट डालने को कहा ताकि देश के राष्ट्र हित सुरक्षित रहें। 31 प्रांतों की 290 सीटों के लिए लगभग पांच करोड़ अस्सी लाख मतदाता हैं।


-----

सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने मंत्रालय के तहत सभी मीडिया इकाईयों को सूचना और प्रसारण टीम के रूप में कार्य करने को कहा है। वे आज सवेरे हैदराबाद में मंत्रालय की दक्षिण क्षेत्र की मीडिया इकाईयों के अधिकारियों के दो दिन के सम्‍मेलन को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये संबोधित कर रहे थे।


इससे पहले सूचना-प्रसारण सचिव रवि मित्‍तल ने बदलते समय में विषयवार संचार की आवश्‍यकता पर जोर दिया।


इस अवसर पर आकाशवाणी और प्रकाशन विभाग की प्रधान महानिदेशक ईरा जोशी ने प्रभावी प्रचार अभियानों के लिए सहयोगपूर्वक कार्य करने को कहा।


पत्र सूचना कार्यालय के प्रधान महानिदेशक कुलदीप धतवालिया ने भी कहा कि सभी मीडिया इाकईयों को अलग-अलग काम करने की बजाय आपसी तालमेल से काम करना चाहिए।


दो दिन के इस सम्‍मेलन में आंध्रप्रदेश, कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु और तेलंगाना से सूचना और प्रसारण मंत्रालय के मीडिया अधिकारी भाग ले रहे हैं। 


-----

पेरिस में वित्‍तीय कार्यवाही कार्यबल-एफ.ए.टी.एफ., आज समूह और समग्र बैठकों के संपन्‍न होने पर औपचारिक बयान जारी कर सकता है। इन बैठकों में आतंकवादियों को धन मुहैया कराने पर रोक लगाने के लिए पाकिस्‍तान द्वारा किये गए उपायों की समीक्षा की जा रही है। इस समय पाकिस्‍तान एफ.ए.टी.एफ. की ग्रे सूची में शामिल है।


-----

सिडनी में आईसीसी ट्वेंटी ट्वेंटी महिला विश्व कप के पहले मैच में ताजा समाचार तक मिलने तक भारत ने 13 ओवर में 3 विकेट पर 82 रन बना लिये थे।

इससे पहले, ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया।


-----

वेलिंग्‍टन में न्‍यूजीलैंड के साथ पहले क्रिकेट टेस्‍ट मैच के पहले दिन भारतीय टीम पांच विकेट पर 122 रन बना कर संघर्ष कर रही थी। आंधी और बारिश के कारण मैच के आखिरी सत्र में खेल नहीं हो सका। अम्‍पायरों ने पिच का निरीक्षण करने के बाद दिन का खेल समाप्‍त करने का फैसला किया। स्‍टंप्‍स के समय अजिंक्‍य राहाणे 38 और ऋषभ पंत 10 रन पर खेल रहे थे।


-----

भारत के बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज प्रज्ञान ओझा ने अंतर्राष्‍ट्रीय और प्रथम श्रेणी क्रिकेट से तत्‍काल प्रभाव से संन्‍यास लेने की घोषणा की है। उन्‍होंने आज अपने ट्वीटर अकाउंट पर यह जानकारी दी।


-----

एक भारत श्रेष्‍ठ भारत मिशन की विशेष श्रृंखला-


हिमाचल प्रदेश में केन्‍द्र सरकार की एक भारत श्रेष्‍ठ भारत पहल के तहत राज्‍य में केरल की तर्ज पर पंचकर्म को पर्यटन से जोड़ने की कवायद शुरू हो गई है। देश विदेश के लोग विभिन्‍न बीमारियों का इलाज  पंर्चकर्म पद्धति से करवाने के लिए केरल जाते हैं। हिमाचल सरकार भी इस दिशा में प्रयासरत है। हमारे संवाददाता ने बताया है कि राज्‍य के पंचकर्म विशेषज्ञों का मानना है कि इससे रोजगार के अवसर सृजित होंगे और पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा।


मंडी जिला के आयुर्वेद अधिकारी डॉक्‍टर जमीर खान चंदेल का कहना है कि प्रदेश सरकार ने ग्लोबल इन्वैस्टर मीट में इस संबंध में एमओयू हस्ताक्षरित किए हैं।


इसके लिए पिछले इन्‍वैस्‍टर मीट में ये प्रस्‍ताव मांगे गए थे। हमारी पॉलिसी बन चुकी है और कुछ एक हमारे प्रस्‍ताव आए भी हैं, जैसे केरल में है, बाहर के देशों के भी प्रतिनिधि आते हैं अपना इलाज कराते हैं इसी तरह वे हिमालच में भी आएंगे।


हिमाचल के पंचकर्मा विशेषज्ञों का मानना है कि इस विधा के जानकारों को प्रदेश से बाहर नहीं जाना पड़ेगा


ये पंचकर्म वैसे तो हमारे आयुर्वेद में पहले से ही विदित है, परंतु केरल में इसका प्रचलन बहुत ज्‍यादा है। हमारे हिमाचल में भी पंचकर्मा को बहुत महत्‍व दिया जा रहा है। 

पंचकर्मा बेसिकली एक ऐसी कम्‍प्‍लीट ट्रिटमेंट है, जिससे हमें प्रोब्‍लम जो है, मैन हार्ट जो प्रोब्‍लम है, एक दवाई पर डिपेंडेंट रहते हैं पूरी उम्र, वो हर तरह की बीमारी का इसमें इलाज है।


उम्मीद की जानी चाहिए कि आयुर्वेद की इस प्राचीन पद्धति से प्रदेश के पर्यटन कारोबार को बढ़ावा मिलेगा और हिमाचल में भी लोग इस पद्धति का लाभ लेने पहुंचेंगे। रितेश कपूर आकाशवाणी समाचार शिमला।


-----

Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 2 (Apr) Midday News 2 (Apr) News at Nine 2 (Apr) Hourly 3 (Apr) (0605hrs)
समाचार प्रभात 2 (Apr) दोपहर समाचार 2 (Apr) समाचार संध्या 2 (Apr) प्रति घंटा समाचार 3 (Apr) (0600hrs)
Khabarnama (Mor) 25 (Mar) Khabrein(Day) 25 (Mar) Khabrein(Eve) 2 (Apr)
Aaj Savere 2 (Apr) Parikrama 2 (Apr)

Listen Programs

Market Mantra 2 (Apr) Samayki 2 (Apr) Sports Scan 23 (Mar) Spotlight/News Analysis 2 (Apr) Samachar Darshan 22 (Mar) Radio Newsreel 21 (Mar)
    Public Speak

    Country wide 12 (Mar) Surkhiyon Mein 12 (Mar) Charcha Ka Vishai Ha 11 (Mar) Vaad-Samvaad 17 (Mar) Money Talk 17 (Mar) Current Affairs 6 (Mar)
  • Money Matters 22 (Mar)
  • International News 22 (Mar)
  • Press Review 23 (Mar)
  • From the States 23 (Mar)
  • Let's Connect 22 (Mar)
  • 360°- Ek Parivesh 23 (Mar)
  • Know Your Constitution 30 (Jan)
  • Ek Bharat Shreshta Bharat 22 (Mar)
  • Sanskriti Darshan 23 (Mar)
  • Fit India New India 23 (Mar)
  • Weather Report 21 (Mar)
  • North East Diaries 22 (Mar)
  • 150 Years of Bapu 22 (Mar)
  • Sector Specific Discussions 22 (Mar)